आतंकवाद और कट्टरता जैसी चुनौतियों से भारत नहीं है अप्रभावित: राजनाथ

India Not Unaffected by Global Challenges Like Terrorism, Radicalisation: Rajnath Singh
केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि आतंकवाद और कट्टरवाद जैसी चुनौतियों का सामना पूरा विश्व कर रहा है और भारत इन समस्याओं से बचा हुआ नहीं है।

हैदराबाद। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि आतंकवाद और कट्टरवाद जैसी चुनौतियों का सामना पूरा विश्व कर रहा है और भारत इन समस्याओं से बचा हुआ नहीं है। गृह मंत्री ने कहा है कि  आतंकवाद और साम्प्रदायिकता जैसी चुनौतियों के समाधान में सुरक्षा बलों के लिए अगला पांच साल बहुत महत्वपूर्ण होगा, खास तौर से जम्मू कश्मीर और पूर्वोत्तर में। सरदार बल्लभ भाई पटेल राष्ट्रीय पुलसि अकादमी में यहां भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रोबेशनर्स को संबोधित करते हुए सिंह ने कैडेटों से कहा कि वह इन समस्याओं को जड़ से मिटाने के लिए संकल्प लें। गृह मंत्री ने कहा, ‘‘पूरा विश्व आज आतंकवाद और कट्टरवाद के भय से घिरा हुआ है।

आईएसआईएस और अल कायदा जैसे संगठन पूरी दूनिया में निर्दोषों की हत्या कर रहे हैं और परमाणु हथियारों के लिए खतरा बने हुए हैं। लोग साईबर हमले की समस्या का सामना कर रहे हैं। ये संगठन हमेशा नये आईडिया के साथ आ रहे हैं।’’ सिंह ने कहा, ‘‘ भारत इन समस्याओं से अलग थलग नही है। हमारा एक पडोसी देश लगातार आतंकियों को बढावा देने में लगा हुआ है। हमलोगों को अगले पांच साल में आतंकवाद, अतिवाद और कट्टरवाद की समस्या को जड़ से समाप्त करने के लिए संकल्प लेना चाहिए।’’ उन्होंने कहा कि सरकार ने आतंकवाद और वाम चरमपंथ के खिलाफ हाल के समय में कुछ निश्चत सफलता पायी है और इसे जारी रखने की आवश्यकता है।

गृह मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने देश में पुलिसबलों के आधुनीकिकरण के लिए 25 हजार करोड़ रूपये आवंटित की है। उन्होंने कैडेटों से कहा कि वह अपने करियर में कठिन मेहनत, ईमानदारी, सकारात्मक दृष्टिकोण और समझदार निर्णय जैसे चार सिद्धातों को अपनायें। राजनाथ ने इस मौके पर राष्ट्रय पुलिस अकादमी कल्याण सोसाइटी के लिए पांच करोड रूपये देने का ऐलान किया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़