भारत ने UN में उठाया जम्मू ड्रोन हमले का मुद्दा, कहा- आतंकी हमले में हो सकता है इसका इस्तेमाल

भारत ने UN में उठाया जम्मू ड्रोन हमले का मुद्दा, कहा- आतंकी हमले में हो सकता है इसका इस्तेमाल

भारत ने ग्लोबल आतंकवाद को लेकर हुई कॉन्फ्रेंस में बताया कि पहली बार भारत में ड्रोन के इस्तेमाल कर आतंकवादी हमला किया गया है।

नयी दिल्ली। भारत ने जम्मू में उच्च सुरक्षा वाले हवाई अड्डा परिसर स्थित वायुसेना स्टेशन में हुए ड्रोन हमले के मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र (यूएन) में उठाया। भारत ने कहा कि आतंकवादी अब ड्रोन के जरिए सामरिक और व्यावसायिक महत्व के ठिकानों को निशाना बना सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें: जम्मू वायु सेना स्टेशन हमले की जांच करेगी NIA, गृह मंत्रालय ने दिया आदेश 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भारत ने ग्लोबल आतंकवाद को लेकर हुई कॉन्फ्रेंस में बताया कि पहली बार भारत में ड्रोन के इस्तेमाल कर आतंकवादी हमला किया गया है। इसके साथ ही यूएन में भारत ने चिंता जताते हुए कहा कि आतंकवादी उद्देश्यों के लिए हथियारयुक्त ड्रोन के उपयोग की संभावना पर सदस्य देशों को गंभीरता से ध्यान देने की आवश्यकता है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक आंतरिक सुरक्षा मामलों के विशेष सचिव वीएसके कौमुदी ने कहा कि आतंकवादी समूहों द्वारा भयानक उद्देश्यों के लिए ड्रोन का इस्तेमाल किया जा सकता है। यह सुरक्षा एजेंसियों के लिए खतरा और एक चुनौती है। उन्होंने कहा कि कम लागत का विकल्प होने की वजह से आतंकियों को आसानी से ड्रोन उपलब्ध हो जाता है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।