• कर्नाटक सरकार ने राज्य में लागू किया वीकेंड कर्फ्यू, जानें क्या खुलेगा, क्या रहेगा बंद

कर्नाटक सरकार ने शुक्रवार से राज्य में वीकेंड कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया है। इस दौरान सरकार ने दुकानों के खुलने और बंद करने का समय निर्धारित कर दिया है।

कर्नाटक सरकार देश में कोरोना के डेल्टा प्लस वैरिएंट को लेकर सतर्क हो गई है। ऐसे में सरकार ने राज्य में वीकेंड कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया है। इस दौरान सरकार ने दुकानों के खुलने और बंद करने का समय निर्धारित कर दिया है। बता दें कि सरकार ने कर्फ्यू के दौरान सुबह 6 बजे से दोपहर 2 बजे तक आवश्यक वस्तुओं और सेवाओं से संबंधित दुकानों के कामकाज की अनुमति दी है, जो शुक्रवार को शाम 7 बजे से सोमवार सुबह 5 बजे तक, बेंगलुरु और 19 अन्य जिलों में लागू रहेगा। राज्य सरकार ने 21 जून से कोरोना वायरस प्रतिबंधों में और ढील देने की घोषणा की थी। 

इसे भी पढ़ें: डिग्री कॉलेज के सभी विद्यार्थियों का जुलाई में टीकाकरण किया जाएगा

इन सेवाओं की होगी अनुमति

हालांकि आवश्यक और आपातकालीन गतिविधियों को छोड़कर व्यक्तियों की आवाजाही पर रोक लगाकर संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए सप्ताहांत कर्फ्यू लागू रहेगा। इस दौरान खाद्य सामग्री, किराने का सामान, फल, सब्जियां, मांस, मछली, पशु चारा और डेयरी और दूध बेचने वाली दुकानें शनिवार और रविवार को खुली रहेंगी। सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानों और रेहड़ी-पटरी वालों को भी सुबह 6 बजे से दोपहर 2 बजे तक काम करने की अनुमति है।

कर्फ्यू के दौरान सुबह 6 बजे से दोपहर 2 बजे तक केवल शराब की दुकानों शराब घर ले जाने की अनुमति होगी। सरकार ने घरों के बाहर व्यक्तियों की आवाजाही को कम करने के लिए 24×7 सभी वस्तुओं की होम डिलीवरी की अनुमति दी है। 

रेस्तरां को केवर होम डिलीवरी की अनुमति है। 

वहीं इस बीच, बसों, ट्रेनों और हवाई यात्रा की आवाजाही की अनुमति है। हवाई, रेल और सड़क मार्ग से यात्रियों की आवाजाही को सुविधाजनक बनाने के लिए हवाई अड्डों, रेलवे स्टेशनों और बस टर्मिनलों / स्टॉप / स्टैंड से सार्वजनिक परिवहन, निजी वाहनों और टैक्सियों की आवाजाही की अनुमति है। वीकेंड कर्फ्यू के दौरान “केवल वैध यात्रा दस्तावेज / टिकट प्रदर्शित करने और कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करने पर ही आवाजाही की अनुमति दी जाएगी,”

बेंगलुरु मेट्रोपॉलिटन ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन (BMTC) ने शुक्रवार को एक बयान में, कहा कि वह वीकेंड कर्फ्यू के कारण शहर में केवल 30 प्रतिशत बस सेवाओं का संचालन करेगा। बीएमटीसी ने कहा “वीकेंड कर्फ्यू के दौरान केवल भोजन, किराने का सामान, फल-सब्जी, दूध और चिकित्सा आदि से संबंधित दुकानों कार्य करने की अनुमति है और अन्य व्यावसायिक गतिविधियां और व्यक्तियों की आवाजाही प्रतिबंधित है। इससे यात्रियों की आवाजाही कम रहने की उम्मीद है, इसलिए बीएमटीसी वीकेंड पर अपनी बस सेवाओं को कम करेगा, ”

बीएमटीसी ने बयान में कहा, वह अपनी मौजूदा 4,000 बस सेवाओं में से केवल 30 प्रतिशत का संचालन करेगी, 26 और 27 जून को केवल 1,200 बसों का संचालन किया जाएगा, ”सरकार के दिशानिर्देश के मुताबिक पहले से ही निर्धारित विवाहों को कोविड नियमों का पालन करते हुए आयोजित करने की अनुमति है। कोविड -19 प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करते हुए शादियों में केवल 40 रिश्तेदारों और अंतिम संस्कार में अधिकतम 5 लोगों के शामिल होने की अनुमति है। इस बीच, रोगियों और उनके परिवार वालों, आपातकालीन की स्थिति में और कोरोना वैक्सीन लेने जाने वाले लोगों को वैध प्रमाण के साथ यात्रा करने की अनुमति है।