गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के नेता रहे कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला का निधन, आंदोलन का बड़ा चेहरा थे

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 31, 2022   10:26
गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के नेता रहे कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला का निधन, आंदोलन का बड़ा चेहरा थे

गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के नेता रहे कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला का बृहस्पतिवार को यहां निधन हो गया। बैंसला कई दिनों से बीमार चल रहे थे। बैंसला के सहयोगियों ने बताया कि गुर्जर आरक्षण को लेकर देश-दुनिया में चर्चा में रहे बैंसला कुछ दिन से बीमार थे।

जयपुर। गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के नेता रहे कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला का बृहस्पतिवार को यहां निधन हो गया। बैंसला कई दिनों से बीमार चल रहे थे। बैंसला के सहयोगियों ने बताया कि गुर्जर आरक्षण को लेकर देश-दुनिया में चर्चा में रहे बैंसला कुछ दिन से बीमार थे।

इसे भी पढ़ें: 'डॉक्टरों को परेशान करना बंद करो'... सुसाइड नोट में यह लिखकर लेडी डॉक्टर ने दे दी जान, मामले ने पकड़ा राजनीतिक तूल

केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने गुर्जर नेता के निधन पर शोक जताते हुए ट्वीट किया,‘‘कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला के निधन का समाचार दुखद है। समाज सुधार एवं समाज को संगठित करने में आपका योगदान अविस्मरणीय रहेगा।’’ विधायक जोगेंद्र सिंह अवाना ने मीडिया से बातचीत में कहा कि बैंसला का निधन गुर्जर समाज और उनके खुद के लिए व्यक्तिगत क्षति है।

इसे भी पढ़ें: जम्मू और कश्मीर कब होंगे विधानसभा चुनाव? अमित शाह ने केंद्र प्रशासित राज्य को लेकर बताई अपनी पूरी योजना

उन्होंने कहा, ‘‘हमारे गुर्जर गांधी चले गए, इससे बड़ा दुख गुर्जर समाज के लिए हो नहीं सकता।’’ कर्नल बैंसला से जुड़े रहे शैलेंद्र सिंह धाभाई ने इसे गुर्जर समाज के लिए अपूरणीय क्षति करार दिया। उन्होंने कहा, ‘‘बैंसला ने पिछड़े वर्ग व गुर्जर समाज के लिए चेतना जगाने का काम किया। हमेशा उनके मन में गुर्जर समाज के भले की चिंता रहती थी और वह बहुत ही दृढ़ निश्चयी (व्यक्ति) थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...