आप छोड़ कर जाने वाले ‘अवसरवादी’ थे: अरविंद केजरीवाल

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jan 21 2019 8:53AM
आप छोड़ कर जाने वाले ‘अवसरवादी’ थे: अरविंद केजरीवाल

आप के वरिष्ठ नेता और दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और हरपाल चीमा एवं अमन अरोड़ा सहित राज्य इकाई का पूरा नेतृत्व भी रैली में मौजूद था।

बरनाला। आम आदमी पार्टी (आप) प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने हाल में पार्टी छोड़ कर जाने वालों पर निशाना साधा और उन्हें पद और टिकटों का लालची ‘अवसरवादी’ करार दिया।केजरीवाल ने पंजाब में आगामी लोकसभा चुनाव के लिए अपनी पार्टी का प्रचार अभियान शुरू किया। यहां एक रैली को संबोधित करते हुये उन्होंने कांग्रेस की अगुवाई वाली राज्य सरकार पर भी निशाना साधा और कहा कि अपने चुनावी वादों को पूरा करने में विफल रह कर उसने लोगों को ‘धोखा’ दिया है। आप के वरिष्ठ नेता और दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और हरपाल चीमा एवं अमन अरोड़ा सहित राज्य इकाई का पूरा नेतृत्व भी रैली में मौजूद था।

 


केजरीवाल ने कहा, ‘‘कुछ दिन पहले कुछ लोग आप छोड़ कर चले गये। हमारे राजनीतिक विरोधियों ने यह कहना शुरू कर दिया कि आप टूट कर बिखर जाएगा। देश में किसी का साहस नहीं है कि पार्टी को तोड़ सके।’’ आप के राष्ट्रीय संयोजक ने कहा, ‘‘कांग्रेस, अकाली दल और भाजपा ने पिछले पांच सालों में पार्टी तोड़ने का बहुत प्रयास किया लेकिन भगवान हमारे साथ हैं।’ केजरीवाल ने कहा, ‘‘जिन लोगों ने आप छोड़ा वे पार्टी में रहने योग्य नहीं थे। वे अवसरवादी थे और पद एवं टिकटों के लालची थे। उन्होंने पार्टी को तोड़ने का प्रयास किया। भगवान ने झाड़ू का इस्तेमाल किया और सभी बुरे लोग अब बाहर हैं।’’ पंजाब से आप के दो बागी नेता भोलाठ के विधायक सुखपाल सिंह खैरा और जैतू के विधायक बलदेव सिंह के अलावा वरिष्ठ वकील एच एस फूलका ने इस महीने पार्टी छोड़ दी है।
 
 
खैरा को पिछले साल नवंबर में ‘पार्टी विरोधी गतिविधियों’ में शामिल रहने पर पार्टी से निलंबित कर दिया गया था।केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अगुवाई वाली केन्द्र सरकार पर राष्ट्रीय राजधानी में विकास कार्यों में बाधा उत्पन्न करने और उनकी हत्या का प्रयास करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, ‘‘मोदी सरकार ने हमें दिल्ली में सरकार नहीं चलाने देने का प्रयास किया। हम अस्पताल, स्कूल बनाना चाहते हैं लेकिन वे हमारे प्रयासों में बाधा उत्पन्न करते रहे। लेकिन हमने उनका मुकाबला किया और अच्छा काम किया।’’ उन्होंने दावा किया, ‘‘पिछले दो सालों में हम पर चार बार हमला हुआ। क्या आपने सुना है कि किसी मुख्यमंत्री पर हमला हुआ है? उन्होंने हमें मारने की साजिश रची।’’ 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


Related Story

Related Video