अनूपपुर के बिजुरी स्वास्थ्य केंद्र पर कोरोना टेस्ट के लिए लग रही लंबी लाइन, लेकिन यहाँ है किट का रोना

अनूपपुर के बिजुरी स्वास्थ्य केंद्र पर कोरोना टेस्ट के लिए लग रही लंबी लाइन, लेकिन यहाँ है किट का रोना

हर दूसरे दिन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भीड़ का माहौल निर्मित हो जाता है। इससे संक्रमण फैलने का खतरा और ज्यादा बढ़ रहा है। वही प्राथमिक केन्द्र के कर्मचारियों द्वारा टेस्ट किट कम होने की बात कही जा रही है।

अनूपपुर। मध्य प्रदेश के अनूपपुर जिले के बिजुरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में इन दिनों हो रहे कोविड-19 टेस्ट की रफ्तार बहुत ही धीमी है। यहाँ प्रतिदिन मात्र 25 से 40 लोगों के ही कोरोना टेस्ट किए जा रहे है।जबकि टेस्ट करवाने आने वालों की लाइन में सौ से डेढ़ सौ मरीज रोजाना पहुँच रहे है। जबकि जिला प्रशासन प्रतिदिन अधिक से अधिक कोरोना टेस्ट करने का दावा कर रहा है। 

 

इसे भी पढ़ें: ग्वालियर में ऑक्सीजन की कमी से हुई दो लोगों की मौत, कमलनाथ ने कही यह बात

करोना संक्रमित मरीजो की संख्या में लगातार हो रही बढ़ोत्तरी को देखते हुए उनके संपर्क में आने वाले लोग भी संक्रमित हो रहे है। जिससे कोरोना संक्रमितों की संख्या रोजाना प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में बढ़ती नजर आ रही है। लेकिन कम मात्रा में जांच होने से प्रतिदिन 200 से 250 लोगो कोविड टेस्ट करवाने के लिए प्राथमिक केन्द्र पर लाइन में लगे नज़र आ रहे है।  

 

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस विधायक कलावती भूरिया का कोरोना से निधन, मुख्यमंत्री सहित नेताओं ने जताया शोक

लेकिन कम मात्रा में जाँच होने से आम जनता को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।जिससे हर दूसरे दिन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भीड़ का माहौल निर्मित हो जाता है। इससे संक्रमण फैलने का खतरा और ज्यादा बढ़ रहा है। वही प्राथमिक केन्द्र के कर्मचारियों द्वारा टेस्ट किट कम होने की बात कही जा रही है। जिसके चलते आम लोग जहाँ अपने कोरोना टेक्ट के लिए भटक रहे है वही प्रशासन का इस ओर ध्यान नहीं होने से क्षेत्र में कोरोना बम फूटने के हालात बन रहे है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।