MP के कृषि मंत्री ने CM शिवराज को लेकर किया बड़ा खुलासा

MP के कृषि मंत्री ने CM शिवराज को लेकर किया बड़ा खुलासा

कृषि मंत्री कमल पटेल ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को लेकर एक बड़ा खुलासा किया है। मंत्री ने एक कार्यक्रम के दौरान मंच से कहा कि टंट्या मामा का पुनर्जन्म प्रदेश के मुख्यमंत्री मामा शिवराज सिंह चौहान के रूप में हुआ है।

भोपाल। मध्य प्रदेश सरकार के कृषि मंत्री कमल पटेल ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को लेकर एक बड़ा खुलासा किया है। मंत्री ने एक कार्यक्रम के दौरान मंच से कहा कि टंट्या मामा का पुनर्जन्म प्रदेश के मुख्यमंत्री मामा शिवराज सिंह चौहान के रूप में हुआ है।

इसे भी पढ़ें:अखिलेश यादव बोले, उत्तर प्रदेश की जनता को योगी सरकार नहीं बल्कि योग्य सरकार चाहिए 

दरअसल खरगोन जिले के भीकनगांव में सोमवार को जननायक टंट्या मामा की "क्रांतिसूर्य गौरव यात्रा" का स्वागत किया गया। जिसमें कृषि मंत्री कमल पटेल शामिल हुए। इस दौरान मंत्री ने आदिवासियों के लिए कई बड़े ऐलान किए। इसके साथ ही टंट्या मामा के चरणों में पुष्पांजलि अर्पित कर टंट्या मामा के परिवार की चौथी पीढ़ी के सदस्यों का सम्मान किया।

वहीं कमल पटेल ने मंच को संबोधित करते हुए कहा कि सीएम शिवराज को टंट्या मामा के पुनर्जन्म हैं। क्योंकि हमारी संस्कृति में यह माना जाता है कि पुनर्जन्म होता है। उन्होंने कहा कि एक क्रांतिसूर्य जननायक टंट्या मामा थे और दूसरे हमारे मामा शिवराज सिंह हैं। 

इसे भी पढ़ें:क्या बिटकॉइन को मिलने वाला है मुद्रा का दर्जा ? वित्त मंत्री ने दिया यह लिखित जवाब 

आपको बता दें कि मंत्री ने दोनों के बीच कुछ सामानताएं भी बताई। कमले पटेल ने कहा कि टंट्या मामा भी दुबले-पतले थे। ठीक उसी तरह हमारे मुख्यमंत्री भी दुबले-पतले हैं। उनको भी मामा कहते थे और शिवराज को भी मामा इसलिए ही कहते हैं। टंट्या मामा भी कन्याओं का विवाह कराते थे शिवराज मामा भी कन्याओं का विवाह कराते हैं। टंट्या मामा बड़े लोगों को लूट कर गरीबों में बांट देते थे, लेकिन हमारे मामा लूट नहीं रहे हैं बल्कि बड़े लोगों पर टैक्स लगाकर उसे गरीबों में बांटते है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।