बाज नहीं आ रहा पाकिस्तान, कश्मीर में लगातार भेज रहा है आतंकी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 25, 2019   14:04
बाज नहीं आ रहा पाकिस्तान, कश्मीर में लगातार भेज रहा है आतंकी

मुठभेड़ स्थल से आपत्तिजनक सामग्री भी बरामद हुई है।’’उन्होंने बताया कि पुलिस के रिकॉर्ड के अनुसार, तीनों आतंकवादी प्रतिबंधित आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद से संबद्ध थे।

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर के कुलगाम जिले में रविवार को मुठभेड़ में मारे गए तीन आतंकवादियों में से दो पाकिस्तानी नागरिक थे। ये दोनों पाकिस्तानी नागरिक आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद के शीर्ष कमांडर थे और आतंकवाद की कई घटनाओं के सिलसिले में वांछित थे। पुलिस के एक प्रवक्ता ने सोमवार को बताया कि मारे गए आतंकवादियों की पहचान कुलगाम के शिंगनपुरा निवासी रकीब अहमद शेख और पाकिस्तानी नागरिकों.. वलीद और नुमान के रूप में हुई है।

जिले के तुरीगाम इलाके में रविवार को जैश ए मोहम्मद के आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में एक पुलिस उपाधीक्षक शहीद हो गए। प्रवक्ता ने कहा ‘‘मारे गए तीनों आतंकवादियों की पहचान कुलगाम के शिंगनपुरा निवासी रकीब अहमद शेख और पाकिस्तानी नागरिकों.. वलीद और नुमान के तौर पर हुई है। मुठभेड़ स्थल से आपत्तिजनक सामग्री भी बरामद हुई है।’’उन्होंने बताया कि पुलिस के रिकॉर्ड के अनुसार, तीनों आतंकवादी प्रतिबंधित आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद से संबद्ध थे। वलीद और नुमान जैश ए मोहम्मद के शीर्ष कमांडर थे और कश्मीर घाटी के दक्षिणी हिस्से में सक्रिय थे।

इसे भी पढ़ें: जम्मू कश्मीर के मुठभेड़ में तीन आतंकी ढेर, पुलिस उपाधीक्षक शहीद

प्रवक्ता ने कहा, ‘‘पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार, इन आतंकवादियों ने इलाके में कई हमलों की साजिश रची थी और उन्हें अंजाम दिया था। लोगों पर ज्यादती, आतंकी हमलों, सुरक्षाबलों और सुरक्षा प्रतिष्ठानों पर हमले जैसे कई मामले उनके खिलाफ दर्ज थे और कानून प्रवर्तन एजेंसियों को उनकी तलाश थी।’’उन्होंने बताया कि मुठभेड़ स्थल से राइफलों सहित अन्य हथियार और गोला बारूद बरामद हुआ है। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।