फूलन देवी की हत्या का मुजरिम लड़ना चाहता है इंदौर से लोकसभा चुनाव

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 23 2019 5:38PM
फूलन देवी की हत्या का मुजरिम लड़ना चाहता है इंदौर से लोकसभा चुनाव
Image Source: Google

सामान्य, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण समाज (सपाक्स) पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी ने बताया कि सपाक्स के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जोगेंद्रसिंह भदौरिया ने राणा को इंदौर लोकसभा सीट से हमारी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ाने का प्रस्ताव रखा है।

इंदौर। दस्यु जीवन छोड़कर राजनेता बनीं फूलन देवी की हत्या के वर्ष 2001 के मामले में दोषी ठहराये गये शेर सिंह राणा को नये राजनीतिक दल सपाक्स के टिकट पर मध्यप्रदेश के इंदौर क्षेत्र से लोकसभा चुनाव लड़वाने की कवायद शुरू हो गयी है। हालांकि, बहुचर्चित मामले में जमानत पर बाहर चल रहे राणा को इस सीट पर 19 मई को होने वाले चुनावों के समर में कूदने के लिये जल्द अदालती मंजूरी लेने की दरकार होगी। भाजपा के 30 साल पुराने कब्जे वाली सीट के उम्मीदवारों के नामांकन दाखिल करने की जारी प्रक्रिया 29 अप्रैल को खत्म होने वाली है। सामान्य, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण समाज (सपाक्स) पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी ने मंगलवार को बताया कि सपाक्स के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जोगेंद्रसिंह भदौरिया ने राणा को इंदौर लोकसभा सीट से हमारी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ाने का प्रस्ताव रखा है। हम इस प्रस्ताव को लेकर विभिन्न पहलुओं पर विचार कर रहे हैं।  

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: नये चेहरे की घोषणा के बाद ताई बोलीं, अब भी चुनावी परिदृश्य में ही हूं, बस भूमिका बदली है

त्रिवेदी ने बताया कि सपाक्स पार्टी की जल्द आयोजित होने वाली आगामी बैठक में राणा को इंदौर से चुनाव लड़ाने पर अंतिम फैसला किया जायेगा। वैसे हम सूबे की 29 में से 11 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं जिनमें इंदौर शामिल है। अनारक्षित तबके के हितों की पैरवी करने करने वाली सपाक्स पार्टी का गठन मध्यप्रदेश के नवंबर 2018 के पिछले विधानसभा चुनावों से ठीक पहले किया गया था। हालांकि, यह पार्टी कुल 230 में से 109 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ने के बावजूद एक भी सीट नहीं जीत सकी थी। इस बीच, खुद राणा (40) ने भी तसदीक की कि वह इंदौर से सपाक्स के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि हमने इसी साल जनवरी में राष्ट्रवादी जनलोक पार्टी (आरजेपी) बनायी है। चूंकि इस दल के पंजीकरण की प्रक्रिया चुनाव आयोग में फिलहाल लम्बित है। इसलिये सपाक्स के साथ आरजेपी के प्रस्तावित गठबंधन के तहत मुझे इंदौर से सपाक्स के चुनाव चिन्ह पर लोकसभा चुनाव लड़वाने पर विचार किया जा रहा है। 

इसे भी पढ़ें: ‘ताई’ के बाद ‘भाई’ ने भी इंदौर से चुनाव लड़ने से किया इंकार



राणा ने बताया कि दिल्ली उच्च न्यायालय में आवेदन प्रस्तुत कर जल्द गुहार की जायेगी कि मुझे इंदौर से लोकसभा चुनाव लड़ने की अनुमति दी जाये। अगर मुझे अदालत से चुनाव लड़ने की अनुमति नहीं मिलती है, तो मेरी पत्नी प्रतिमा राजे राणा (31) को इंदौर से चुनाव लड़ाने पर विचार किया जा सकता है जो मध्यप्रदेश से ही ताल्लुक रखती हैं। राणा राजपूत समुदाय से ताल्लुक रखते हैं। मोटे अनुमान के मुताबिक इंदौर लोकसभा क्षेत्र में इस समुदाय के 4.5 लाख मतदाता हैं। क्षेत्र में कुल मतदाताओं की तादाद 23 लाख से ज्यादा है। उत्तरप्रदेश के मिर्जापुर से समाजवादी पार्टी की तत्कालीन सांसद फूलन देवी (37) की 25 जुलाई 2001 को दिल्ली में गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। इस मामले में राणा को दिल्ली की एक अदालत ने आठ अगस्त 2014 को दोषी करार दिया था। इस मुजरिम को 14 अगस्त 2014 को उम्रकैद की सजा सुनायी गयी थी। राणा को दिल्ली उच्च न्यायालय से मामले अक्टूबर 2016 में जमानत मिल गयी थी।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video