पंजाब के CM की अपील, शांतिपूर्ण तरीके से ट्रैक्टर परेड निकाले किसान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 25, 2021   18:35
पंजाब के CM की अपील, शांतिपूर्ण तरीके से ट्रैक्टर परेड निकाले किसान

दिल्ली पुलिस ने रविवार को कहा था कि किसानों की प्रस्तावित ट्रैक्टर परेड गणतंत्र दिवस समारोह का समय समाप्त होने के बाद शुरू होगी। सिंह ने किसानों की ट्रैक्टर परेड को भारतीय गणतंत्र और इसके संवैधानिक मूल्यों का उत्सव करार दिया है।

चंडीगढ़। दिल्ली में मंगलवार को होने वाली किसानों की ट्रैक्टर परेड से पहले पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने सोमवार को किसानों से शांतिपूर्ण रैली निकालने की अपील की। किसान नेताओं ने कहा है कि वह गणतंत्र दिवस के अवसर पर ट्रैक्टर परेड निकालेंगे। दिल्ली पुलिस ने रविवार को कहा था कि किसानों की प्रस्तावित ट्रैक्टर परेड गणतंत्र दिवस समारोह का समय समाप्त होने के बाद शुरू होगी। सिंह ने किसानों की ट्रैक्टर परेड को भारतीय गणतंत्र और इसके संवैधानिक मूल्यों का उत्सव करार दिया है।

मुख्यमंत्री ने गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर अपने संदेश में कहा, ‘‘इन महीनों में आपका (किसान) आंदोलन शांतिपूर्ण रहा यही इसकी पहचान है और आने वाले दिनों में भी ऐसा ही होना चाहिए। राष्ट्रीय राजधानी में गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर रैली भी शांतिपूर्ण होनी चाहिए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘कल आपके ट्रैक्टरों का दृश्य यह रेखांकित करेगा कि भारतीय संविधान और हमारे गणतंत्र का सारभूत तत्व अलग नहीं किया जा सकता।’’ उन्होंने कहा कि किसानों का ‘‘अदम्य संघर्ष’ लोगों को हमेशा सच की याद दिलाएगा। केंद्र पर निशाना साधते हुए सिंह ने आरोप लगाया कि मौजूदा सरकार के दौरान संघीय ढांचा सबसे बड़े ‘खतरे’ को झेल रहा है। 

इसे भी पढ़ें: गौरवशाली गणतंत्र के 72 साल: 26 जनवरी 1950, 10 बजकर 18 मिनट पर हमें हुई थी अस्तित्व की प्राप्ति

उन्होंने कहा कि बिना चर्चा, विमर्श के जिस तरह तीनों कानून पारित किए गए, वह विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र में स्वीकार्य नहीं हो सकता। सिंह ने कहा, ‘‘केंद्र को राज्य के विषय पर कानून बनाने का अधिकार नहीं है और कृषि भी इसी के तहत आता है। हमारे संविधान और संघीय ढांचे के प्रत्येक सिद्धांतों की अवहेलना कर कृषि कानूनों को लागू किया गया।’’ उन्होंने कहा, ‘हम प्रत्येक किसान के साथ खड़े हैं, जिन्होंने अपना खून और पसीना लगाकर पंजाब की मिट्टी को उर्वर बनाया है और उनके बिना देश कभी आगे नहीं बढ़ सकता।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।