मुख्यमंत्री ने जयशंकर को यू.के. से शहीद उधम सिंह की निजी वस्तुओं की वापसी के लिए लिखा पत्र

Captain Amarinder Singh
केंद्रीय मंत्री को लिखे अपने पत्र में मुख्यमंत्री ने उनको यह अपील की है कि यह मुद्दा यू.के. की सरकार के समक्ष उठाया जाए, जिससे आज़ादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहा भारत इस शहीद और महान देशभक्त को अपनी श्रद्धाँजलि दे सके।

चंडीगढ़ मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने केंद्रीय विदेश मंत्री डॉ. एस. जयशंकर से माँग की है कि यू.के. से महान शहीद उधम सिंह की निजी वस्तुएं जिनमें उनकी पिस्तौल और निजी डायरी शामिल है, वापस लाने के लिए यू.के. की सरकार के साथ बातचीत की जाए।

 

केंद्रीय मंत्री को लिखे अपने पत्र में मुख्यमंत्री ने उनको यह अपील की है कि यह मुद्दा यू.के. की सरकार के समक्ष उठाया जाए, जिससे आज़ादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहा भारत इस शहीद और महान देशभक्त को अपनी श्रद्धाँजलि दे सके। 

पत्र में मुख्यमंत्री ने आगे लिखा है, ‘‘आपको पता होगा कि इसी पिस्तौल से शहीद उधम सिंह ने जलियांवाला बाग़ में, जहाँ तत्कालीन पंजाब के लैफ्टिनैंट गवर्नर माइकल ओ’डवायर के आदेशों से सैंकड़ों ही निहत्थे और निर्दोष भारतीयों को गोलियों से भून दिया गया था, बिर्टिश हुकूमत द्वारा की गई घिनौनी कार्रवाई का बदला लिया था। यह वही पिस्तौल है जिससे शहीद उधम सिंह ने लंदन के कैक्सटन हॉल में माइकल ओ’डवायर को मारा था।’’

मुख्यमंत्री ने आगे कहा, ‘‘यह भी पता लगा है कि शहीद ऊधम सिंह एक निजी डायरी भी रखते थे, जिसको भारत वापस लाया जाना बहुत ज़रूरी है, जिससे देश के लोग इससे प्रेरणा ले सकें।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़