राहुल में एक अच्छा प्रधानमंत्री बनने के सभी गुण मौजूद: तेजस्वी

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jan 27 2019 4:57PM
राहुल में एक अच्छा प्रधानमंत्री बनने के सभी गुण मौजूद: तेजस्वी
Image Source: Google

राजद नेता ने एक साक्षात्कार में कहा, “अपने खिलाफ चलाये गये इतने लंबे नकारात्मक अभियान के बाद भी, उन्होंने (गांधी ने) अपनी दृढ़ता, दयालुता और बड़े दिल से लोगों का दिल जीता है।’’

नयी दिल्ली। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने कहा है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी में एक अच्छा प्रधानमंत्री बनने के लिए आवश्यक सभी गुण मौजूद हैं और उनके नेतृत्व पर सवाल नहीं उठाया जाना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने भाजपा पर कांग्रेस नेता की छवि धूमिल करने के लिए करोड़ों रुपये खर्च करने का आरोप भी लगाया। देश का अगला प्रधानमंत्री कौन होगा ? इस मुद्दे पर हालांकि तेजस्वी यादव ने कहा कि 2019 में लोकसभा चुनाव के बाद महागठबंधन के घटक दल सामूहिक रूप इस मुद्दे को सुलझा लेंगे। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व पर कभी भी कोई सवालिया निशान नहीं लगा। 



 
राजद नेता ने एक साक्षात्कार में कहा, “अपने खिलाफ चलाये गये इतने लंबे नकारात्मक अभियान के बाद भी, उन्होंने (गांधी ने) अपनी दृढ़ता, दयालुता और बड़े दिल से लोगों का दिल जीता है।’’ यादव ने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व में तीन प्रमुख राज्यों ... राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में कांग्रेस की जीत ने पार्टी और उन 69 प्रतिशत मतदाताओं के मन में आत्मविश्वास और ऊर्जा की भावना भर दी है जिन्होंने 2014 में नरेंद्र मोदी को वोट नहीं दिया था। यह पूछा गया कि क्या गांधी के पास एक अच्छा प्रधानमंत्री बनने के सभी गुण हैं? इस पर बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘हाँ ! उनके पास सभी गुण हैं, वे भारत की सबसे पुरानी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं और पिछले 15 वर्षों से संसद सदस्य हैं। मत भूलिए कि उनकी पार्टी से देश में पांच मुख्यमंत्री हैं और वह उनका नेतृत्व कर रहे हैं। इसलिए, उनके (गांधी के) नेतृत्व और गुणों पर कोई सवाल नहीं उठाया जाना चाहिए।’’ 
 
 


गौरतलब है कि पिछले महीने, कांग्रेस के बड़े सहयोगियों में से एक, द्रमुक के अध्यक्ष एम के स्टालिन ने पहली बार सार्वजनिक रूप से कहा था कि नरेंद्र मोदी सरकार को हराने के लिए एकजुट विपक्ष को प्रधानमंत्री पद के अपने उम्मीदवार के तौर पर कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी को मैदान में उतारना चाहिए। इस बयान को लेकर स्टालिन की आलोचना की गई थी, लेकिन वह अपने विचारों पर अडिग रहे। यादव से जब पूछा गया कि क्या राहुल विपक्षी गठबंधन का नेतृत्व करने के लिए सबकी पसंद हैं, तो उन्होंने कहा कि भारत एक लोकतांत्रिक देश है, जिसमें लोग अपने प्रतिनिधियों का चयन करते हैं और फिर वे प्रतिनिधि अपना एक नेता चुनते हैं, जो प्रधानमंत्री बनता है।
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video