आकाश में छाने को तैयार राकेश झुनझुनवाला की अकासा, जानिए विमान कब से भरेंगे उड़ान?

आकाश में छाने को तैयार राकेश झुनझुनवाला की अकासा, जानिए विमान कब से भरेंगे उड़ान?

एयरलाइन को अरबपति राकेश झुनझुनवाला का समर्थन प्राप्त है, जिन्हें 'भारत के वारेन बफेट' के रूप में जाना जाता है, जिन्होंने भारत में घरेलू हवाई यात्रा के लिए लंबी अवधि की संभावनाओं को बढ़ाने के लिए इंडिगो और जेट एयरवेज के पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ मिलकर काम किया है।

राकेश झुनझुनवाला समर्थित एयरलाइन कंपनी अकासा एयर जून के महीने से अपनी सेवाएं शुरू कर सकता है। अकासा एयर के मुख्य कार्यकारी विनय दुबे ने बात की जानकारी देते हुए कहा कि नई भारतीय बजट एयरलाइन अकासा एयर जून में अपनी पहली वाणिज्यिक उड़ान शुरू करने की योजना बना रही है और सभी प्रासंगिक लाइसेंस प्राप्त करने के लिए काम कर रही है। एयरलाइन को अरबपति राकेश झुनझुनवाला का समर्थन प्राप्त है, जिन्हें "भारत के वारेन बफेट" के रूप में जाना जाता है, जिन्होंने भारत में घरेलू हवाई यात्रा के लिए लंबी अवधि की संभावनाओं को बढ़ाने के लिए इंडिगो और जेट एयरवेज के पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ मिलकर काम किया है।

इसे भी पढ़ें: विमान ईंधन की कीमत 3.3% बढ़ी, इस साल पांचवीं बार हुई बढ़ोतरी

दुबे ने दक्षिणी भारतीय शहर हैदराबाद में एक एयर शो में बोलते हुए कहा कि एयरलाइन का लक्ष्य लॉन्च से 12 महीने के भीतर 18 विमान और पांच साल में 72 विमान होंगे। दुबे ने अकासा एयरलाइन द्वारा किन शहरों में सेवा शुरू की जाएगी इस बारे में अभी खुलासा नहीं किया है। अकासा एयर को पिछले साल अक्टूबर में परिचालन शुरू करने के लिए भारत के नागरिक उड्डयन मंत्रालय से प्रारंभिक मंजूरी मिली थी। झुनझुनवाला ने एयरलाइन चलाने के लिए जेट एयरवेज के पूर्व सीईओ विनय दुबे और इंडिगो के पूर्व अध्यक्ष आदित्य घोष जैसे विमानन उद्योग के दिग्गजों को इसकी जिम्मेदारी दी है। अकासा एयर सभी भारतीयों की उनकी सामाजिक-आर्थिक या सांस्कृतिक पृष्ठभूमि की परवाह किए बिना सेवा करेगी।

इसे भी पढ़ें: आसमान में कलाबाजियां खाने लगा इंडिगो का विमान, तो राकेश टिकैत बोले- इसकी जांच होनी चाहिए, लोग ऐसे लेने लगे मजे

कौन-कौन लोग शामिल

इंडिगो के पूर्व अध्यक्ष आदित्य घोष, अपनी 10 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ अकासा एयर के सह-संस्थापक होंगे। वे आकाश एयर के प्रबंधन में नहीं होंगे लेकिन, झुनझुनवाला के नामित उम्मीदवार होंगे।

जेट एयरवेज के पूर्व सीईओ विनय दुबे, अपनी 15 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ अकासा एयर के CEO होंगे। 

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, डेल्टा एयर लाइन्स इंक के एक पूर्व वरिष्ठ कार्यकारी संस्थापक भी इस टीम का हिस्सा होंगे।

मीडिया रिपोर्टों में यह भी कहा गया है कि, अकासा एयर के अन्य प्रमुख लोग गो एयर के पूर्व राजस्व प्रबंधन VP आनंद श्रीनिवासन को CTO के रूप में, जेट एयरवेज के पूर्व VP प्रवीण अय्यर को COO के रूप में, जेट के पूर्व उड़ान संचालन VP फ्लोयड ग्रेशियस को CTO या इसी तरह की भूमिका या फिर, इसी तरह की समान भूमिका निभाने के लिए और, अनुभवी नीलू खत्री, कॉर्पोरेट मामलों के प्रमुख के तौर पर  शामिल होंगे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...