सरकार की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाना प्रतिबद्धता, सभी को पेंशन मिलेगी-मुख्यमंत्री

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 28, 2021   08:57
सरकार की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाना प्रतिबद्धता, सभी को पेंशन मिलेगी-मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘सरकार की विभिन्न योजनाओं की जानकारी सुदूर इलाकों में रहने वाले लोगों को नहीं होती है।इस वजह से वे इन योजनाओं के लाभ से वंचित रह जाते हैं।ऐसे ही लोगों को जागरूक करने और योजनाओं से जोड़ने के लिए आपके अधिकार आपकी सरकार आपके द्वार अभियान चलाया जा रहा है।

गोला (रामगढ़)|  झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने शनिवार को कहा कि सरकार की योजनाओं का लाभ जन-जन को मिले यही उनका संकल्प है तथा राज्य सरकार ने सार्वभौमिक पेंशन योजना शुरू की है जिसमें पेंशन के लिए लाभार्थियों की संख्या सीमा समाप्त कर दी गई है। सोरेन ने यहां अपने पैतृक गांव का दौरा करने के दौरान कहा कि राज्य सरकार ने 60 साल से ज्यादा उम्र के सभी बुजुर्गों को पेंशन देने का सरकार निर्णय लिया है।

उन्होंने कहा कि आपके अधिकार आपकी सरकार आपके द्वार अभियान चलाया जा रहा है जिसके तहत राज्य के गांव गांव में शिविर लगाकर लोगों की समस्याओं का समाधान करने के साथ विकास और कल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले पात्र होने के बाद भी कई जरूरतमंदों और गरीबों को विभिन्न पेंशन योजनाओं का लाभ नहीं मिल पाता था, इस वजह से सरकार ने सार्वभौमिक पेंशन योजना शुरू की है जिसमें इसमें पेंशन के लिए लाभार्थियों की संख्यासीमा समाप्त कर दी गई है।

इसे भी पढ़ें: नीति आयोग की रिपोर्ट में बिहार के बाद झारखंड के सबसे गरीब होने पर राजनीति गर्म

उन्होंने कहा कि 60 वर्ष से ज्यादा उम्र के सभी बुजुर्गों को पेंशन देने का सरकार निर्णय लिया है तथा इस योजना के तहत सभी विधवाओं, परित्यक्ता और दिव्यांगों को भी पेंशन मिलेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘सरकार की विभिन्न योजनाओं की जानकारी सुदूर इलाकों में रहने वाले लोगों को नहीं होती है।इस वजह से वे इन योजनाओं के लाभ से वंचित रह जाते हैं।ऐसे ही लोगों को जागरूक करने और योजनाओं से जोड़ने के लिए आपके अधिकार आपकी सरकार आपके द्वार अभियान चलाया जा रहा है।

इस अभियान से जुड़कर आप राज्य के विकास में सहभागी बनें।’’ सोरेन ने कहा कि राज्य की ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाना और लोगों की आय में वृद्धि सरकार की विशेष प्राथमिकता है।

इसे भी पढ़ें: ‘लोकतंत्र के मंदिरों’ की गरिमा बनाए रखें: झारखंड के राज्यपाल

मुख्यमंत्री ने इस मौके पर सोना सोबरन धोती -साड़ी योजना के 10, प्रधानमंत्री आवास योजना के 10,मनरेगा शेड के पांच, मुख्यमंत्री पशुधन योजना के 10 लाभार्थियोंके बीच सांकेतिक रूप से परिसंपत्तियों का वितरण किया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।