तमिलनाडु सरकार ने कावेरी-गुंडर को जोड़ने वाली परियोजना की आधारशिला रखी

के पलानीस्वामी
तमिलनाडु सरकार ने कावेरी-गुंडर को जोड़ने वाली परियोजना की आधारशिला रखी।मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी और उपमुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम ने इस जिले के कुन्नाथुर में परियोजना के पहले चरण की आधारशिला रखी। पहले चरण में अनुमानित 6,941 करोड़ रुपए की लागत आएगी।

पुडुकोट्टाई (तमिलनाडु)। तमिलनाडु सरकार ने कावेरी-वैगई-गुंडर नदियों को जोड़ने की 14,000 करोड़ रुपए की लागत वाली परियोजना के पहले चरण की रविवार को आधारशिला रखी। इस परियोजना का लक्ष्य अतिरिक्त जल को राज्य के दक्षिणी हिस्सों में अपेक्षाकृत शुष्क इलाकों में पहुंचाना है।

इसे भी पढ़ें: पीएम मोदी का एक और तोहफा, कोलकाता मेट्रो विस्तार का सोमवार को करेंगे उद्घाटन

मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी और उपमुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम ने इस जिले के कुन्नाथुर में परियोजना के पहले चरण की आधारशिला रखी। पहले चरण में अनुमानित 6,941 करोड़ रुपए की लागत आएगी। वे परियोजना के ‘भूमि पूजन’ में शामिल हुए। सरकार ने बताया कि 262 किलोमीटर की इस परियोजना का मकसद कावेरी के अतिरिक्त जल को नहर के जरिए गुंडर नदी की ओर मोड़ना है और इस परियोजना के तहत कावेरी, दक्षिण वेल्लार, वैगई और गुंडर नदियों को जोड़ा जाएगा।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़