एक ही हवाला ऑपरेटर के जरिए मनी लॉन्ड्रिंग कर रहे हैं उद्धव ठाकरे और सोनिया गांधी? किरीट सोमैया ने लगाया बड़ा आरोप

एक ही हवाला ऑपरेटर के जरिए मनी लॉन्ड्रिंग कर रहे हैं उद्धव ठाकरे और सोनिया गांधी? किरीट सोमैया ने लगाया बड़ा आरोप

किरीट सोमैया ने अब कांग्रेस पर निशाना साधना शुरू कर दिया है। किरीट सोमैया ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि ठाकरे और गांधी परिवार एक ही हवाला ऑपरेटर के जरिए गुमनाम रूप से पैसे ट्रांसफर कर रहे थे।

शिवसेना और एनसीपी नेताओं पर पिछले कुछ दिनों से भ्रष्टाचार का आरोप लगाने वाले बीजेपी नेता किरीट सोमैया ने अब कांग्रेस पर निशाना साधना शुरू कर दिया है। किरीट सोमैया ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि ठाकरे और गांधी परिवार एक ही हवाला ऑपरेटर के जरिए गुमनाम रूप से पैसे ट्रांसफर कर रहे थे। सोमैया ने बताया कि मुंबई नगर निगम की स्थायी समिति के अध्यक्ष प्रधान डीलर्स प्राइवेट लिमिटेड के माध्यम से ठेकेदारों से प्राप्त नकदी को डायवर्ट किया जाता था। कंपनी अब बंद हो गई है। हालांकि, यशवंत जाधव इस कंपनी के बैंक खाते में पैसे जमा करके अपने चेक प्राप्त करते थे। किरीट सोमैया ने कहा कि हवाला संचालक उदय शंकर महावर ही सारा आर्थिक लेन-देन कर रहा था। 

इसे भी पढ़ें: मलिक की बर्खास्तगी की मांग पर राउत बोले- इस्तीफा स्वीकार या खारिज करना मुख्यमंत्री का विशेषाधिकार

सोमैया ने कहा कि धन और भ्रष्टाचार को कैसे डायवर्ट किया जाए, इस पर यशवंत जाधव ने शिवसेना नेताओं के सामने एक मिसाल कायम की थी। उसी तरह ठाकरे परिवार और अनिल परब ने भ्रष्टाचार किया। इन सब में उदय शंकर महावर की अहम भूमिका है। इतना ही नहीं उदय महावर ठाकरे और गांधी दोनों परिवारों के लिए काम करते थे। बता दें कि किरीट सोमैया शुक्रवार को मुंबई में प्रेस कांफ्रेंस में बोल रहे थे। जहां उन्होंने यशवंत जाधव के कथित भ्रष्टाचार को लेकर पूरा ब्यौरा पेश किया। उन्होंने बताया कि यह सब तब शुरू हुआ जब यशवंत जाधव की पत्नी यामिनी जाधव ने विधानसभा चुनाव के लिए अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। यामिनी जाधव ने चुनावी हलफनामे में करोड़ों रुपये छिपाए थे। यशवंत जाधव हवाला संचालक को नकद भुगतान कर चेक के रूप में नकद भुगतान करते थे। यशवंत जाधव ने कई कंपनियों की स्थापना की थी। 

इसे भी पढ़ें: जयंत पाटिल ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, बोले- केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग करने के बजाय यूक्रेन से भारतीय छात्रों को निकालें

आयकर विभाग ने मुंबई में शिवसेना पार्षद और बीएमसी की स्थायी समिति के अध्यक्ष यशवंत जाधव के दूसरे घर पर छापा मारा है। बता दें कि यशवंत जाधव पिछले पांच साल से बीएमसी के स्थायी समिति के अध्यक्ष हैं। बीजेपी नेता लगातार उन पर गुमनाम कंपनियों के जरिए वित्तीय धोकाधड़ी का आरोप लगाते रहे हैं।  





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...