मां के इलाज से लेकर पढ़ाई तक, प्रदीप मेहरा की मदद को आगे आई यूपी सरकार; सेना में भर्ती होने का लक्ष्य बरकरार

मां के इलाज से लेकर पढ़ाई तक, प्रदीप मेहरा की मदद को आगे आई यूपी सरकार; सेना में भर्ती होने का लक्ष्य बरकरार

प्रदीप मेहरा सेक्टर- 16 स्थित रेस्तरां में तीन दिनों से काम करने नहीं जा रहे है क्योंकि भारी संख्या में लोग उनसे मिलने पहुंच रहे है जिसके कारण काम करने में समस्या आ रही है। वहीं अब प्रदीप अपनी एकेडमी में प्रशिक्षण प्राप्त करने की तैयारी में जुट गए है।

उत्तराखंड के प्रदीप मेहरा का वीडियो जैसे ही वायरल हुआ वैसे ही लोग उनके दिवाने से हो गए है। लाखों लोगों ने उन्हें अपना रोल मॉडल और आयडिल तक बना दिया। इंटरनेट पर वह वायरल होते ही अब वह इतने व्यस्त हो गए है कि उन्हें खाने तक का समय नहीं मिल पा रहा है। लाखों लोगों का बेशुमार प्यार प्रदीप को मिल रहा है। उन्होने बताया कि, जब से वीडियो वायरल हुई तभी से कई लोगों के फोने आने लग गए जिसके कारण अब उनके पास खुद के लिए ही समय नहीं बच पा रहा है। जब सोते है तो ऐसा लगता है कि, कुछ ही दिनों के अंदर चीजें कितनी ज्यादा बदल गई। व्यस्त होने के कारण प्रदीप अब अपनों से भी बात करने का समय नहीं निकाल पा रहे हैं। शुक्रवार को प्रदीप ने बताया कि वह ज्लद ही अपनी मां से मिलेंगे। प्रदीप को गौतमबुद्ध नगर जिला प्रशासन की तरफ से ट्रीटमेंट का प्रस्ताव मिलने की बात हो रही है। 

इसे भी पढ़ें: बीरभूम हिंसा पर एक्शन में CBI, केंद्रीय जांच ब्यूरो की फोरेंसिक टीम पहुंची रामपुरहाट गांव

बता दें कि, प्रदीप मेहरा  सेक्टर- 16 स्थित रेस्तरां में तीन दिनों से काम करने नहीं जा रहे है क्योंकि भारी संख्या में लोग उनसे मिलने पहुंच रहे है जिसके कारण काम करने में समस्या आ रही है। वहीं अब प्रदीप अपनी एकेडमी में प्रशिक्षण प्राप्त करने की तैयारी में जुट गए है। बता दें कि, प्रदीप को अपनी निजी कपंनी से टैबलेट तक मिला है। प्रदीप मेहरा सेना में भर्ती होना चाहते है और इसके लिए वह काफी मेहनत कर रहे है। अपने जोश और जज्बे के लिए प्रदीप चर्चा में आए और इस कारण संस्थाएं प्रदीप को पढ़ाने के लिए आगे आ रही हैं। लेकिन उन्होंने साफ कहा है कि, वह सेना में भर्ती होना चाहते है। वह अपनी मेहनत के कारण लोगों के नजर में आए है और वह अपना लक्ष्य बरकरार रखेंगे। 12वीं तक की पढ़ाई करने के बाद प्रदीप अब सेना में जाने की तैयारी कर रहे हैं। प्रदीप मेहरा की मां दो साल से बिमार है और उनका उपचार दिल्ली में चल रहा है। मां के मेडिकल ट्रिटमेंट में खर्चा इतना ज्यादा है कि प्रदीप का कर्ज बढ़ गया है। परिवार की मदद के लिए प्रदीप को नौकरी करनी पड़ रही है।साथ ही सेना में जाने का सपना भी उनका बरकरार है। नोएडा की सड़कों पर प्रदीप का आधी रात को दौड़ने का वीडियो वायरल हो गया था।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।