मतदान को पुनीत कर्तव्य मान कर देशवासी मताधिकार का प्रयोग करें: वेंकैया नायडू

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 25, 2020   10:38
मतदान को पुनीत कर्तव्य मान कर देशवासी मताधिकार का प्रयोग करें: वेंकैया नायडू

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने शनिवार को राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर देशवासियों से मतदान को पुनीत कर्तव्य मानते हुए देशहित में मतदान अवश्य करने की अपील की। उन्होंने कहा कि चुनाव लोकतंत्र का उत्सव मात्र नहीं बल्कि देश की प्रगति के लिए यज्ञ है। अपने मत से उसकी पवित्रता अक्षुण्ण रखें।

नयी दिल्ली। उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने शनिवार को राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर देशवासियों से मतदान को पुनीत कर्तव्य मानते हुए देशहित में मतदान अवश्य करने की अपील की। नायडू ने ट्वीट कर कहा, “आज राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर देश के सभी मतदाताओं से आग्रह करता हूं कि वे मताधिकार को पुनीत कर्तव्य मानते हुए, राष्ट्र और समाज के हित में उसका प्रयोग करें।”

इसे भी पढ़ें: मतदाता को समझनी होगी मतदान की अहमियत

जागरुक और सजग मतदाताओं को लोकतंत्र की बुनियाद बताते हुए उन्होंने कहा, “चुनाव लोकतंत्र का उत्सव मात्र नहीं बल्कि देश की प्रगति के लिए यज्ञ है। अपने मत से उसकी पवित्रता अक्षुण्ण रखें। कल (रविवार) राष्ट्र अपना गणतंत्र दिवस मनायेगा। जागरुक मतदाता हमारे लोकतांत्रिक गणराज्य की नींव हैं।”

इसे भी पढ़ें: राष्ट्रीय मतदाता दिवस: हर व्यक्ति के लिए मतदान करना जरूरी है

उपराष्ट्रपति ने मतदान को धर्म और जाति के बजाय उम्मीदवार की योग्यता से निर्धारित करने की अपील की। उन्होंने कहा, “मतदान करते समय जाति, धर्म, क्षेत्रीयता की संकीर्णता से ऊपर उठ कर उम्मीदवार के चरित्र, आचरण, विचारों, क्षमता और राष्ट्रनिष्ठा का विचार अवश्य करें। धनबल, आपराधिकता से मुक्त चुनाव प्रक्रिया की शुचिता सुनिश्चित करें।”





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।