एडमिरल हरि कुमार ने भारतीय नौसेना के नए प्रमुख का पदभार संभाला

एडमिरल हरि कुमार ने भारतीय नौसेना के नए प्रमुख का पदभार संभाला

एडमिरल आर. हरि कुमार ने भारतीय नौसेना के नए प्रमुख का पदभार संभाला।वह आईएनएस विक्रमादित्य की विदेशी समिति के प्रमुख थे और गोवा में नौसेना युद्ध कॉलेज के कमांडेंट के रूप में नियुक्त होने वाले पहले ध्वज अधिकारी थे।

एडमिरल आर. हरि कुमार ने भारतीय नौसेना के नए प्रमुख का पदभार संभाला। उन्होंने एडमिरल करमबीर सिंह का स्थान संभाला है।बता दें कि एडमिरल आर हरि कुमार पहले फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ (एफओसी-इन-सी) पश्चिमी नौसेना कमान थे। वह आईएनएस विक्रमादित्य की विदेशी समिति के प्रमुख थे और गोवा में नौसेना युद्ध कॉलेज के कमांडेंट के रूप में नियुक्त होने वाले पहले ध्वज अधिकारी थे।उन्होंने मुंबई में अधिकारियों और नाविकों के लिए आवास के बुनियादी ढांचे में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

इस बीच पूर्व भारतीय नौसेना के प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने कहा कि, पिछले 30 महीने भारतीय नौसेना के प्रमुख के रूप में काम करना मेरे लिए बहुत ही गर्व की बात है। इस दौरान देश और नौसेना कोविड महामारी के चलते मुश्किल समय से गुजरी है। नौसेना ने इस कठिन समय में अपना सर्वश्रेष्ठ दिखाते हुए कार्य किया। इस अवसर पर एडमिरल आर. हरि कुमार ने कहा कि, एडमिरल करमबीर सिंह आज 41 साल तक देश सेवा के बाद सेवानिवृत्त हो रहे हैं। हम उनके नेतृत्व और मार्गदर्शन के लिए आभारी हैं। भारतीय नौसेवा हमेशा उनकी आभारी रहेगी।

कौन है एडमिरल आर. हरि कुमार

12 अप्रैल, 1962 को जन्मे वाइस एडमिरल आर हरि कुमार ने दिसंबर 1981 में जे-स्क्वाड्रन, 61 कोर्स नेशनल डिफेंस एकेडमी से ग्रेजुएशन किया। उन्हें 1 जनवरी, 1983 को नौसेना की कार्यकारी शाखा में कमीशन दिया गया था। लगभग 39 वर्षों के अपने करियर के दौरान, उन्होंने विभिन्न कमांड, स्टाफ और निर्देशात्मक नियुक्तियों में काम किया है। वाइस एडमिरल कुमार की समुद्री कमान में तटरक्षक पोत सी-01, आईएनएस निशंक, मिसाइल कार्वेट, आईएनएस कोरा और गाइडेड मिसाइल विध्वंसक आईएनएस रणवीर शामिल हैं। उन्होंने विमानवाहक पोत आईएनएस विराट की कमान भी संभाली।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...