पड़ोसी मुल्क में चल रहा जम्हूरियत का शोरगुल, मुफ्ती बोलीं- हम चाहेंगे एक स्थिर देश बने पाकिस्तान

mehbooba mufti
प्रतिरूप फोटो
पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने कहा कि भुट्टो साहब कहते थे कि हिंदुस्तान लोकतंत्र में जम्हूरियत के शोरगुल से ज़िदा है आज मुझे लगता है कि पाकिस्तान में भी वहां की जम्हूरियत का शोरगुल चल रहा है। हम चाहेंगे कि पाकिस्तान भी एक स्थिर देश बने। दरअसल, पाकिस्तान में राजनीतिक संकट छाया हुआ है।

श्रीनगर। पाकिस्तान में राजनीतिक संकट छाया हुआ है। इमरान खान नेशनल असेंबली का विश्वास खो दिया है और शहबाज शरीफ के प्रधानमंत्री बनने की संभावना है। इसी संबंध में जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती का बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान भी एक स्थिर देश बने, हम ऐसा चाहेंगे। 

इसे भी पढ़ें: इमरान से चर्चा के बाद आरिफ अल्वी ने लिया फैसला, राष्ट्रपति पद से नहीं देंगे इस्तीफा 

पाकिस्तान में बने स्थिर सरकार

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने कहा कि भुट्टो साहब कहते थे कि हिंदुस्तान लोकतंत्र में जम्हूरियत के शोरगुल से ज़िदा है आज मुझे लगता है कि पाकिस्तान में भी वहां की जम्हूरियत का शोरगुल चल रहा है। हम चाहेंगे कि पाकिस्तान भी एक स्थिर देश बने।

महीनेभर चले सियासी ड्रामे के बाद अंतत: इमरान खान के खिलाफ शनिवार को नेशनल असेंबली में अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान हुआ। इस दौरान पीटीआई का एक भी सांसद नेशनल असेंबली में मौजूद नहीं रहा था। जिसके बाद इमरान खान का बहुमत खोना तय था और हुआ भी ऐसा ही। 

इसे भी पढ़ें: इमरान समर्थकों के निशाने पर सेना प्रमुख बाजवा, पाकिस्तान की सड़कों पर लगाए गए 'चौकीदार चोर है' के नारे 

आपको बता दें कि शहबाज शरीफ को चुनौती देने के लिए पीटीआई ने पूर्व विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी को मैदान में उतारा है ताकि पार्टी संयुक्त विपक्षी उम्मीदवार की उम्मीदवारी को चुनौती दे सके। नया प्रधानमंत्री बनने के लिए 342 सदस्यीय सदन में 172 मतों की आवश्यकता होगी और पीटीआई के लिए यह काफी मुश्किल होने वाला है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़