सभी वैरिएंट्स से सबसे ज्यादा खतरनाक हो सकता है XE variant! जानें लक्षण और अहम बातें

XE variant
निधि अविनाश । Apr 07, 2022 12:20PM
कोरोना का नया वैरिएंट सभी वैरिएंट्स से सबसे ज्यादा खतरनाक हो सकता है।विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, एक्सई वैरिएंट ओमिक्रोन के बीए.2 वैरिएंट की तुलना में 10 गुना तेजी से फैलता है। ओमिक्रोन के लक्षणों में बुखार, गले में खराश, खांसी, सर्दी, त्वचा में जलन जैसी शिकायत होती है।

मुबंई में कोरोना का नया सब एक्सई वैरिएंट का नया मामला मिला है। खबरों के मुताबिक, जिस महिला में कोरोना का नया एक्सई वैरिएंट की पुष्टि की गई है वह 50 साल की है और उसमें कोरोना के कोई लक्षण नहीं दिखे थे। बता दें कि, महिला को वैक्सीन की दोनों डोज भी लग चुकी है। बीएमसी के मुताबिक,इस नए वैरिएंट की पुष्टि के लिए नमूना आगे के विश्लेषण के लिए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ बायोमेडिकल जीनोमिक्स भेजी जाएगी। बता दें कि, मुंबई में इस मामले के मिलने के बाद से केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय सतर्क हो चुकी है। वहीं स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों की मानें तो मरीजों के नमूने में एक्सई वैरिएंट की मौजूदगी नहीं मिली है।

इसे भी पढ़ें: क्या सच में भारत में कोरोना के नए वैरिएंट XE ने दी दस्तक? जानें दावे की हकीकत

यहां जानिए एक्सई वैरिएंट की अहम बातें

बताया जा रहा है कि, कोरोना का नया वैरिएंट सभी वैरिएंट्स से सबसे ज्यादा खतरनाक हो सकता है।विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, एक्सई वैरिएंट ओमिक्रोन के बीए.2 वैरिएंट की तुलना में 10 गुना तेजी से फैलता है।  ओमिक्रोन के लक्षणों में बुखार, गले में खराश, खांसी, सर्दी, त्वचा में जलन जैसी शिकायत होती है। इस वैरिएंट की सबसे पहला केस यूके में 19 जनवरी को आया था जिसके बाद करीब 637 मामले और बढ़ गए हैं। एक्सई वैरिएंट के थाईलैंड और न्यूजीलैंड में भी मामले आए हैं। हालांकि, अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि, एक्सई वैरिएंट मरीजों के लिए कितना ज्यादा गंभीर है। बता दें कि, इसके डेटा की विश्व स्वास्थ्य संगठन और जांच कर रहा है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़