सुल्तानपुर में योगी आदित्यनाथ ने विकास परियोजनाओं का किया उद्घाटन और शिलान्यास, कांग्रेस सरकार पर साधा निशाना

सुल्तानपुर में योगी आदित्यनाथ ने विकास परियोजनाओं का किया उद्घाटन और शिलान्यास, कांग्रेस सरकार पर साधा निशाना

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विगत की केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पहले भारत में 2004 से लेकर 2014 तक किस प्रकार की सरकारें थीं, उनका एक ही उद्देश्य होता था। जैसे भी हो भारत की आस्था पर प्रहार करना।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सुल्तानपुर में 271 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाले राजकीय मेडिकल कॉलेज समेत विभिन्न विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ भाजपा की वरिष्ठ नेता मेनका गांधी मौजूद रहीं। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि अयोध्या में दीपावली को भव्य दीपोत्सव का आयोजन होगा। इस कार्यक्रम में हम सब भी सहभागी बन सकें, हर व्यक्ति अपने-अपने घर में मिट्टी के दीपक जला सकें। मर्यादा पुरषोत्तम श्रीराम आज से हजारों वर्ष पहले रामराज्य की स्थापना के लिए पूरे देश के अंदर जिस तरह से भूमिका तैयार करने के उपरांत उनका अयोध्या आगमन हुआ था, उन स्मृतियों को प्रणाम करते हुए हर भारतवासी उत्साह के साथ आयोजन के साथ जुड़ सके इसीलिए मैं आपके पास आया हूं। 

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश की बड़ी खबरें: योगी सरकार पूर्व प्रधानमंत्री के जन्मदिन को किसान सम्मान दिवस के रूप में मनाएगी

विगत सरकार ने विकास को किया बाधित

इस दौरान मुख्यमंत्री ने विगत की केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पहले भारत में 2004 से लेकर 2014 तक किस प्रकार की सरकारें थीं, उनका एक ही उद्देश्य होता था। जैसे भी हो भारत की आस्था पर प्रहार करना। जैसे भी हो, भारत के विकास को बाधित करना और फिर यही क्रम उनका बढ़ता गया। उन्होंने कहा कि एक समय तो ऐसा आ गया था 2009 के बाद, जब हर दिन एक नया घोटाला कांग्रेस के नेतृत्व की केंद्र सरकार का देश के सामने आता था। पूरा देश हैरान और परेशान होता था। 

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश की बड़ी खबरें: नगर विकास मंत्री ने नवचयनित 39 अधिकारियों को वितरित किया नियुक्ति पत्र

उन्होंने कहा कि विकास की योजनाओं का लाभ न देश को मिलता था और न ही प्रदेश को मिलता था। न गांव को मिलता था, न गरीब को मिलता था। विकास की योजनाओं को परिवार तक सीमित कर दिया था। मुख्यमंत्री ने कहा कि एक परिवार दिल्ली में और एक परिवार लखनऊ में बैठकर गरीब के पैसे को हड़पने का कार्य करता था।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।