हां, मैं समलैंगिक हूं कहने वाली दुती को मिली दोहरी खुशी, खेल रत्न की सिफारिश के बाद टोक्यो ओलंपिक में किया क्वॉलिफाई

हां, मैं समलैंगिक हूं कहने वाली दुती को मिली दोहरी खुशी, खेल रत्न की सिफारिश के बाद टोक्यो ओलंपिक में किया क्वॉलिफाई

एथलीट दुती चंद को ओलंपिक में जाने का मौका मिला। एथलीट दुती चंद ने टोक्यो ओलंपिक के लिए 100 और 200 मीटर रेस के लिए क्वॉलिफाई कर लिया है। हाल ही में ओडिशा सरकार की तरफ से देश के सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार के लिये दुति चंद के नाम की सिफारिश की गई है।

भारतीय एथलीट दुती चंद दोहरी खुशी से रूबरू हुई, जब उनका नाम खेल रत्न के लिए उनके नाम की सिफारिश कि गई और उसके बाद भारतीय एथलीट ने टोक्यो ओलंपिक में भी क्वॉलिफाई कर लिया। एथलीट दुती चंद ने टोक्यो ओलंपिक के लिए 100 और 200 मीटर रेस के लिए क्वॉलिफाई कर लिया है। वर्ल्ड रैकिंग कोटे में 22 जगह बाकी थी। दूती की 100 मीटर में रैकिंग 44 है। वहीं 200 मीटर में रैकिंग 51 है। इस वजह से दूती को ओलंपिक में जाने का मौका मिला। हाल ही में दूती ने 100 मीटर में 11.17 सेकेंड के साथ नया नेशनल रिकॉर्ड भी बनाया। हाल ही में ओडिशा सरकार की तरफ से देश के सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार के लिये दुति चंद के नाम की सिफारिश की गई है। जिसके बाद दूती ने ट्वीट कर ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को शुक्रिया भी किया है। 

इसे भी पढ़ें: इस बार धर्मशाला में नहीं खेला जाएगा टी20 वर्ल्ड कप का कोई भी मुकाबला, क्रिकेटप्रेमी निराश

ओडिशा की रहने वाले दुती चंद एक बुनकर परिवार से तालुक्क रखती हैं। उन्होंने अपनी बहन सरस्वती से प्रेरित होकर दौड़ना शुरू किया। लेकिन उन्होंने अपने जीवन के हर मोड़ पर कड़ी मुश्किलों का सामना किया है। एशियाई खेलों में भारत के लिए दो रजत पदक जीतने वाली देश की सबसे तेज महिला धावक दुती चंद ने चौंकाने वाला खुलासा करते हुए साल 2019 में कहा था कि वे बीते कुछ सालों से समलैंगिक रिश्तों में हैं। दुती के साथ समलैंगिक रिश्तों में कोई और नहीं बल्कि उनके गांव की ही एक लड़की हैं।