FlipKart ने उड़ाया सुशांत सिंह राजपूत के डिप्रेशन का मजाक, भड़के फैंस ने की शॉपिंग साइट को बैन करने की मांग

FlipKart
@itsSSR
रेनू तिवारी । Jul 28, 2022 11:36AM
सुशांत सिंह राजपूत के प्रिंट वाली एक टी-शर्ट फ्लिप्कार्ड पर बेची जा रही हैं। इस टी-शर्ट पर सुशांत की तस्वीर के अलावा एक कॉट भी लिखा है जिसे जो सुशांत के फैंस को पसंद नहीं आया हैं। सुशांत की तस्वीर के साथ नीचे लिखा- 'Depression like drowning'।

दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत को लगभग दो साल से ज्यादा का समय बीच चुका है लेकिन सुशांत के फैंस उन्हें एक पल के लिए नहीं भूले हैं। हमने अकसर सोशल मीडिया पर देखा है कि सुशांत सिंह राजपूत का नाम सोशल मीडिया पर ट्रेंड करता रहता हैं। एक बार फिर सुशांत सिंह राजपूत का नाम ट्रेंड कर रही हैं। इस बार सुशांत के फैंस फ्लिपकार्ड जैसी ऑनलाइन शॉपिंग साइट के बहिष्कार की मांग कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: Alia Bhatt ने शेयर किया 'Darlings' का प्रमोशनल लुक, प्रेगनेंसी ग्लो पर अटक गया Arjun Kapoor का दिल

दरअसल मामला यह है कि सुशांत सिंह राजपूत के प्रिंट वाली एक टी-शर्ट फ्लिप्कार्ड पर बेची जा रही हैं। इस टी-शर्ट पर सुशांत की तस्वीर के अलावा एक कॉट भी लिखा है जिसे जो सुशांत के फैंस को पसंद नहीं आया हैं। सुशांत की तस्वीर के साथ नीचे लिखा- 'Depression like drowning'। अब यह बात सुशांत के फैंस को और परिवार को भी पसंद नहीं आ रही हैं। उन्हें पसंद नहीं आया कि सुशांत के डिप्रेशन का इस तरह से मजाक बनाया जा रहा हैं। इस टी-शर्ट की तस्वीर साझा करते लोग सोशल मीडिया पर अपनी अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें: Sonakshi Sinha ने किया नई फिल्म का ऐलान, एक साल के गैप के बाद इस फिल्म से करेंगी कमबैक

फ्लिपकार्ड पर सुशांत सिंह राजपूत का मजाक बनाने पर फैंस आगबबूला हो गये हैं। एक फैन ने लिखा सुशांत की दुखद मौत के सदमे से अभी देश बाहर नहीं निकला है। हम न्याय के लिए आवाज उठाते रहेंगे.. फ्लिपकार्ट को इस जघन्य कृत्य पर शर्म आनी चाहिए और माफी मांगनी चाहिए कि ऐसी घटना दोबारा नहीं होगी।

सुशांत सिंह राजपूत 14 जून, 2020 को अपने मुंबई के फ्लैट में मृत पाए गए थे। उनके पिता केके सिंह द्वारा एक प्राथमिकी में, यह आरोप लगाया गया था कि रिया चक्रवर्ती ने दिवंगत अभिनेता के खाते से पैसे निकाले थे। फिलहाल मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) कर रही है। इसके अलावा, प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) मामले में फंड की हेराफेरी के एंगल से जांच कर रहा है। इसके अलावा इस केस की जांच हत्या और आत्महत्या दोनों एंगल से की जा रही थी। 

अन्य न्यूज़