Sabyasachi : सब्यसाची द्वारा मंगल सूत्र का अमंगलकारी विज्ञापन, रचनात्मक स्वतंत्रता के नाम पर नग्नता

Sabyasachi : सब्यसाची द्वारा मंगल सूत्र का अमंगलकारी विज्ञापन, रचनात्मक स्वतंत्रता के नाम पर नग्नता

डिजाइनर सब्यसाची मुखर्जी के बुधवार को उनके नए आभूषण विज्ञापन अभियान की तस्वीरें वायरल होने के बाद उन्हें सोशल मीडिया पर बेरहमी से ट्रोल किया गया। उनके नए कलेक्शन का नाम 'इंटिमेट फाइन ज्वैलरी' है।

डिजाइनर सब्यसाची मुखर्जी के बुधवार को उनके नए आभूषण विज्ञापन अभियान की तस्वीरें वायरल होने के बाद उन्हें सोशल मीडिया पर बेरहमी से ट्रोल किया गया। उनके नए कलेक्शन का नाम 'इंटिमेट फाइन ज्वैलरी' है। 

सब्यसाची के आधिकारिक इंस्टाग्राम पेज ने ब्रांड के नए लॉन्च किए गए मंगलसूत्रों को दिखाते हुए मॉडल की तस्वीरों की एक सीरीज जारी की। प्रमोशन विज्ञापन में विषमलैंगिक और समान-लिंग वाली दो अलग-अलग जोड़ियों को दिखाया है। जो  द रॉयल बंगाल मंगलसूत्र पहन कर उनका प्रमोशन कर रही हैं। यह जो डिजाइनर के अंतरंग आभूषण संग्रह का एक हिस्सा है। तस्वीर में मॉडल ने केवल ब्रा पहनी हुई है और मेल मॉडल ने केवल अंडरगार्मेंट्स पहने हुए हैं।

 

 

इसे भी पढ़ें: हॉलीवुड की ये फ़िल्में कॉपी करके बॉलीवुड ने कर दी बड़ी गलती! बॉक्स ऑफिस पर बुरी तरह पिटीं 

इस एड को सोशल मीडिया पर कुछ लोगों द्वारा पसंद नहीं किया। लोगों ने डिजाइनर पर हिंदू संस्कृति से जुड़े मंगलसूत्र की छवि को खराब करने का आरोप लगाया है।इंटरनेट पर इस विज्ञापन को 'अश्लील' माना जा रहा है। कई सोशल मीडिया उपयोगकर्ताओं ने अपने असंतोष को व्यक्त करने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया और दावा किया कि विज्ञापन हिंदू संस्कृति पर हमला है और धार्मिक भावनाओं को आहत करता है।

इसे भी पढ़ें: रवि किशन की लव स्टोरी है प्रेरणादायक, सोने से पहले छूते हैं पत्नी के पैर 

एक उपयोगकर्ता ने इंस्टाग्राम कमेंट सेक्शन पर लिखा "आप वास्तव में क्या विज्ञापन कर रहे हैं? अब कोई भी इस आभूषण को नहीं पहनेगा क्योंकि आपने दुनिया को दिखाया है कि अगर मैं वह आभूषण पहनती हूं तो मुझे कुछ सस्ता होना चाहिए! कृपया अपने अभियानों का ध्यान रखें। एक अन्य उपयोगकर्ता ने टिप्पणी की, "मेरी निराशा अथाह है और मेरा दिन बर्बाद हो गया है।" एक अन्य टिप्पणी में कहा गया है, "आभूषण कला के खूबसूरत टुकड़ों में से एक है .. बेहतर तरीके से विज्ञापित किया जा सकता था।" इसके अलावा ेक कमेंट आया कि और अब सब्यसाची द्वारा मंगल सूत्र का अमंगलकारी विज्ञापन। रचनात्मक स्वतंत्रता के नाम पर  नग्नता ही रचनाशीलता है।

भारतीय महिलाओं द्वारा उनकी शादी के बाद उनके गले में पहना जाने वाला आभूषण मंगलसूत्र है। जिसे लेकर सोशल मीडिया पर गुस्सा है और इसके लिए सब्यसाची की अलोचना की जा रही है। यूजर ने लिखा "सच में सब्यसाची ?? तुमको क्या हुआ आजकल, जो इस तरह मंगलसूत्र बेचते हैं। हिम्मत है तो इस तरीक़े से बुर्का, तबीज बेचो ?? हिंदू भेदभाव बंद करो।