Goa के निवेशकों को 10 करोड़ रुपये का चूना लगाने वाली उत्तर प्रदेश की कंपनी के खिलाफ मामला दर्ज

defrauding
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Common
गोवा पुलिस की आर्थिक अपराधा शाखा के अधिकारियों ने संवाददाताओं को बताया कि उत्तर प्रदेश के मथुरा मुख्यालय वाली कंपनी कर्मभूमि इन्फ्राटेक रियल्टी लि. ने 2013 और 2018 में गोवा के पोंडा और मापूसा में दफ्तर बनाए थे।

पणजी। गोवा पुलिस ने तटीय राज्य के करीब 1,000 निवेशकों के साथ 10 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के मामले में उत्तर प्रदेश की एक फाइनेंस कंपनी के चेयरमैन और अन्य अधिकारियों के खिलाफ प्राथमिकी (एफआईआर) दर्ज की है। गोवा पुलिस की आर्थिक अपराधा शाखा के अधिकारियों ने संवाददाताओं को बताया कि उत्तर प्रदेश के मथुरा मुख्यालय वाली कंपनी कर्मभूमि इन्फ्राटेक रियल्टी लि. ने 2013 और 2018 में गोवा के पोंडा और मापूसा में दफ्तर बनाए थे। कंपनी ने अपनी फाइनेंस योजनाओं के जरिये निवेशकों को ऊंचे रिटर्न का वादा किया था।

इसे भी पढ़ें: देश का service exports चालू वित्त वर्ष में 300 अरब डॉलर के लक्ष्य को पार करेगा : गोयल

एक अधिकारी ने कहा कि कंपनी द्वारा पिछले तीन साल के दौरान परिपक्वता पर निवेशकों का पैसा देने बंद कर दिया गया। उसके बाद निवेशकों के समूह ने आर्थिक अपराध शाखा में शिकायर्त दर्ज कराई। कंपनी ने कथित रूप से 1,000 निवेशकों के साथ 10 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की है। अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने सोमवार को कंपनी के चेयरमैन देवेंद्र पाल सिंह, प्रबंध निदेशक मनोज कुमार सेंगर और क्षेत्रीय प्रबंधक नीलेश सुर्वे के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़