विदेशी बाजारों में गिरावट से खाद्य तेलों में रहा नरमी का रुख

edible oil
प्रतिरूप फोटो
विदेशी बाजारों में गिरावट का रुख बने रहने से दिल्ली तेल-तिलहन बाजार में शनिवार को मूंगफली, सोयाबीन और पामोलीन तेल की कीमतों में गिरावट दर्ज की गई। इसके अलावा सरसों तेल में भी नरमी का रुख देखा गया।

विदेशी बाजारों में गिरावट का रुख बने रहने से दिल्ली तेल-तिलहन बाजार में शनिवार को मूंगफली, सोयाबीन और पामोलीन तेल की कीमतों में गिरावट दर्ज की गई। इसके अलावा सरसों तेल में भी नरमी का रुख देखा गया। बाजार से जुड़े सूत्रों ने बताया कि शिकागो एक्सचेंज में शुक्रवार को 4.5 प्रतिशत की बड़ी गिरावट देखे जाने का असर स्थानीय तेल-तिलहन बाजार पर भी पड़ा।

हालांकि इसका असर उतना अधिक नहीं रहा क्योंकि घरेलू स्तर पर खाद्य तेलों की आपूर्ति कम है जिसने बाहरी असर को कम करने का काम किया है। सरकार ने खाद्य तेलों के आयात शुल्क में छूट दी थी लेकिन उपभोक्ताओं को इस रियायत का पूरा फायदा नहीं मिल पा रहा है। ऐसी स्थिति में सरकार को इसका इंतजाम करना चाहिेए कि खाद्य तेल कारोबारी इसका लाभ उपभोक्ता तक पहुंचाएं। सूत्रों ने कहा कि सरकार को खाद्य तेलों की आपूर्ति श्रृंखला को बनाये रखने के लिए सोयाबीन डीगम और सूरजमुखी तेल के आयात की सीमा को पूरी तरह खत्म कर देना चाहिये या पहले की तरह पांच प्रतिशत का आयात शुल्क लगा देना चाहिये।

इसके अलावा सरकार को तिलहन उत्पादन बढ़ाने पर भी ध्यान देने की आवश्यकता है। मूंगफली की कुछ समय में ही घरेलू फसल तैयार होने वाली वाली है इसलिए इसका कारोबार मंदा चल रहा है। वहीं सरसों के भाव अधिक रहने से इसके लिवाल कम मिल रहे हैं। कारोबारी सूत्रों ने जल्द ही शुरू होने वाले नवरात्रि त्योहार में पूजा के लिए इस्तेमाल होने वाले तेल को लेकर सरकार से सतर्कता बरतने की अपील की है।

उन्होंने कहा कि पूजा के तेल के नाम पर कुछ रसायनों का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। अगर कोई व्यक्ति अनजाने में इस तेल का इस्तेमाल खाना बनाने में कर ले तो वह जानलेवा साबित हो सकता है। लिहाजा सरकार को इस मिलावट पर रोक लगाने के लिए तत्काल कदम उठाने चाहिए। शनिवार को तेल-तिलहनों के भाव इस प्रकार रहे: सरसों तिलहन - 6,825-6,830 (42 प्रतिशत कंडीशन का भाव) रुपये प्रति क्विंटल।

मूंगफली -7,020-7085 रुपये प्रति क्विंटल। मूंगफली तेल मिल डिलिवरी (गुजरात) -16,250 रुपये प्रति क्विंटल। मूंगफली सॉल्वेंट रिफाइंड तेल 2,695 - 2,865 रुपये प्रति टिन। सरसों तेल दादरी- 13,700 रुपये प्रति क्विंटल। सरसों पक्की घानी- 2,130-2,260 रुपये प्रति टिन। सरसों कच्ची घानी- 2,200-2,315 रुपये प्रति टिन। तिल तेल मिल डिलिवरी - 18,000-19,500 रुपये प्रति क्विंटल। सोयाबीन तेल मिल डिलिवरी दिल्ली- 12,350 रुपये प्रति क्विंटल। सोयाबीन मिल डिलिवरी इंदौर- 12,150 रुपये प्रति क्विंटल। सोयाबीन तेल डीगम, कांडला- 10,800 रुपये प्रति क्विंटल। सीपीओ एक्स-कांडला- 8,400 रुपये प्रति क्विंटल।

बिनौला मिल डिलिवरी (हरियाणा)- 12,400 रुपये प्रति क्विंटल। पामोलिन आरबीडी, दिल्ली- 10,050 रुपये प्रति क्विंटल। पामोलिन एक्स- कांडला- 9,100 रुपये (बिना जीएसटी के) प्रति क्विंटल। सोयाबीन दाना - 5,250-5,350 रुपये प्रति क्विंटल। सोयाबीन लूज 5,225- 5,325 रुपये प्रति क्विंटल। मक्का खल (सरिस्का) 4,010 रुपये प्रति क्विंटल।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़