वैश्विक रुख से तय होगी वैश्विक शेयर बाजार की दिशा

global-stock-market-direction-will-be-determined-by-global-trend
अमेरिकी ड्रोन को मार गिराने और दो तेल टैंकरों पर हमले के बादपश्चिम एशिया में भू-राजनीतिक तनाव बढ़ने से पिछले सप्ताह शेयर बाजार प्रभावित हुआ। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के ईरान पर हमले के आदेश और बाद में इसे वापस लेने की खबरें आने के बाद शुक्रवार को कच्चे तेल के दाम में तेजी रही।

नयी दिल्ली। घरेलू संकेतकों की कमी के बीच इस सप्ताह वैश्विक शेयर बाजारों की दिशा वैश्विक रुख से तय होगी। निवेशक अमेरिका और ईरान के बीच टकराव और वैश्विक व्यापार परिदृश्य पर करीब से नजर रखेंगे। विश्लेषकों ने यह बात कही। अमेरिकी ड्रोन को मार गिराने और दो तेल टैंकरों पर हमले के बादपश्चिम एशिया में भू-राजनीतिक तनाव बढ़ने से पिछले सप्ताह शेयर बाजार प्रभावित हुआ। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के ईरान पर हमले के आदेश और बाद में इसे वापस लेने की खबरें आने के बाद शुक्रवार को कच्चे तेल के दाम में तेजी रही।

इसे भी पढ़ें: सोना 280 रुपये बढ़कर 34,000 रुपये के पार, चांदी 710 रुपये चढ़ी

सैमको सिक्योरिटीज और स्टॉकनोट के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिमीत मोदी ने कहा कि इस हफ्ते बाजार में बजट नीतियों के नतीजों पर अटकलें शुरू हो जाएंगी। वैश्विक कारक घरेलू शेयर बाजारों को प्रभावित कर सकते हैं और पश्चिमी एशिया में किसी भी तरह की टकराव की स्थिति शेयर बाजारों के लिए परेशानी खड़ी कर सकती है। विशेषज्ञों ने कहा कि निवेशकों की नजर रुपये की चाल और कच्चे तेल के उतार-चढ़ाव पर रहेगी। 

इसे भी पढ़ें: औद्योगिक उत्पादन, मुद्रास्फीति, वैश्विक रुख से तय होगी बाजार की चाल: विश्लेषक

रेलिगेयर ब्रोकिंग लिमिटेड के खुदरा वितरण के अध्यक्ष जयंत मांगलिक ने कहा कि व्यापार युद्ध और भू-राजनीतिक तनाव को देखकर निवेशक अपना रुख तय करेंगे। इन कारकों के जल्द समाप्त होने की संभावना नहीं है। पिछले सप्ताह बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 257.58 अंक यानी 0.65 प्रतिशत गिरा। सेंसेक्स शुक्रवार को 407.14 अंक यानी 1.03 प्रतिशत गिरकर 39,194.49 अंक पर बंद हुआ।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़