ई-वाणिज्य क्षेत्र में एफडीआई नियमों में बदलाव करेगी सरकार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 20, 2021   12:09
  • Like
ई-वाणिज्य क्षेत्र में एफडीआई नियमों में बदलाव करेगी सरकार

सरकार ई-वाणिज्य क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) केनियमों में बदलाव करने पर विचार कर रही है जिनके तहत इस क्षेत्र की प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) वाली ऐसी कंपनियों को उन विक्रेताओं से उत्पाद खरीदने से रोकना है जिनमें उनकी खुद अथवा उनकी मूल कंपनी की अप्रत्यक्ष हिस्सेदारी है।

नयी दिल्ली। सरकार ई-वाणिज्य क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) केनियमों में बदलाव करने पर विचार कर रही है जिनके तहत इस क्षेत्र की प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) वाली ऐसी कंपनियों को उन विक्रेताओं से उत्पाद खरीदने से रोकना है जिनमें उनकी खुद अथवा उनकी मूल कंपनी की अप्रत्यक्ष हिस्सेदारी है।

इसे भी पढ़ें: VSNL में अपनी बची हिस्सेदारी इस वित्त वर्ष में बेच देगी सरकार

सूत्रों ने यह जानकारी दी है। सरकार ने इससे पहले दिसंबर 2018 में उत्पादों की आनलाइन बिक्री के लिये मंच उपलब्ध कराने वाली कंपनियों को उन कंपनियों के उत्पाद बेचने से रोका था जिनमें उनकी प्रत्यक्ष हिस्सेदारी है।मौजूदा नीति के मुताबिक आनलाइन बिक्री मंच उपलब्ध कराने वाली कंपनियों में 100 प्रतिशत एफडीआई की अनुमति है लेकिन उनके लिये गोदामों में रखे तैयार माल की बिक्री करने जैसी गतिविधियां चलाने का निषेध है।

इसे भी पढ़ें: सिद्धार्थ मोहंती एलआईसी के प्रबंध निदेशक, संजीव कुमार टीसीआईएल के प्रमुख नियुक्त 

सरकार का एफडीआई वाली ई- वाणिज्य कंपनियों के मामले में नियमों में बदलाव के बारे में विचार करना महत्वपूर्ण है। क्योंकि देश के व्यापारियों का संगठन कन्फेडरेशन आफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) लगातार यह आरोप लगाता रहा है कि ई- वाणिज्य कंपनियां फेमा और एफडीआई नियमों का उल्लंघन कर रही हैं। कैट के मुताबिक वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने अमेजन और फ्लिपकार्ट द्वारा नियमों के कथित उल्लंघन संबंधी ज्ञापन को प्रवर्तन निदेशालय और रिजर्व बैंक को जरूरी कार्रवाई के लिये भेज दिया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




ऑटो और टैक्सी का सफर हुआ महंगा, लागू हुआ नया किराया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 1, 2021   18:14
  • Like
ऑटो और टैक्सी का सफर हुआ महंगा, लागू हुआ नया किराया

मुंबई में ऑटो, टैक्सी का नया किराया लागू हो गया है।आरटीओ अधिकारियों ने कहा कि टैक्सियों से 1.5 किमी की दूरी के लिए न्यूनतम किराया 22 रुपये से बढ़कर 25 रुपये हो गया है, जबकि ऑटो-रिक्शा के लिए यह 18 रुपये से बढ़कर 21 रुपये हो गया है।

मुंबई। मुंबई में सीएनजी से चलने वाले ऑटो-रिक्शा और टैक्सी के लिए नया किराया लागू हो गया है। इसमें प्रत्येक की न्यूनतम दरों में तीन रुपये की वृद्धि की गई है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी है। मुंबई महानगर क्षेत्र में कुछ पेट्रोल चालित वाहनों सहित करीब 60,000 टैक्सी और 4.6 लाख ऑटो-रिक्शा हैं। आरटीओ अधिकारियों ने कहा कि टैक्सियों से 1.5 किमी की दूरी के लिए न्यूनतम किराया 22 रुपये से बढ़कर 25 रुपये हो गया है, जबकि ऑटो-रिक्शा के लिए यह 18 रुपये से बढ़कर 21 रुपये हो गया है। उन्होंने कहा कि इस दर के अलावा, न्यूनतम दूरी के यात्रियों को टैक्सियों के लिए 16.93 रुपये प्रति किमी और ऑटो-रिक्शा के लिए 14.20 रुपये प्रति किमी का भुगतान करना होगा।

इसे भी पढ़ें: शेयर बाजार में रही रौनक, सेंसेक्स 750 अंक उछला; निफ्टी में भी तेजी

मुंबई महानगर क्षेत्र परिवहन प्राधिकरण (एमएमआरटीए) की एक बैठक में पिछले सप्ताह न्यूनतम किराया तीन रुपये बढ़ाने का निर्णय लिया गया था। बैठक की अध्यक्षता महाराष्ट्र परिवहन सचिव ने की थी। उन्होंने कहा कि पिछली किराया वृद्धि एक जून, 2015 को लागू की गई थी। राज्य के परिवहन मंत्री अनिल परब ने पिछले सप्ताह कहा था कि महानगर में ऑटो-रिक्शा और टैक्सियों के किराये में छह साल के अंतराल के बाद बढ़ोतरी की जा रही है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




सोने की कीमतों में आई तेजी, जानिए 10 ग्राम का क्या रहा भाव?

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 1, 2021   17:40
  • Like
सोने की कीमतों में आई तेजी, जानिए 10 ग्राम का क्या रहा भाव?

पिछले कारोबारी सत्र में सोना 45,279 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने बताया कि चांदी भी 781 रुपये की भारी तेजी के साथ 68,877 रुपये प्रति किलो ग्राम पर थमी।

नयी दिल्ली। मजबूत वैश्विक रुख के अनुरूप राष्ट्रीय राजधानी के सर्राफा बाजार में सोमवार को सोने का भाव 241 रुपये की तेजी के साथ 45,520 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। पिछले कारोबारी सत्र में सोना 45,279 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने बताया कि चांदी भी 781 रुपये की भारी तेजी के साथ 68,877 रुपये प्रति किलो ग्राम पर थमी।

इसे भी पढ़ें: शेयर बाजार में रही रौनक, सेंसेक्स 750 अंक उछला; निफ्टी में भी तेजी

एचडीएफसी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ विश्लेषक (जिंस) तपन पटेल ने कहा, ‘‘वैश्विक बहुमूल्य धातुओं की कीमतों में सुधार के रुख के बीच दिल्ली में 24 कैरेट सोने के हाजिर मूल्य में 241 रुपये की तेजी आई।’’ अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना मजबूती के साथ 1,753 डॉलर प्रति औंस तथा चांदी तेजी के साथ 26.90 डॉलर प्रति औंस पर चल रही थी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




शेयर बाजार में रही रौनक, सेंसेक्स 750 अंक उछला; निफ्टी में भी तेजी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 1, 2021   16:51
  • Like
शेयर बाजार में रही रौनक, सेंसेक्स 750 अंक उछला; निफ्टी में भी तेजी

सेंसेक्स के शेयरों में 29 लाभ में रहे।बेहतर प्रदर्शन करने वाले प्रमुख शेयरों में पावर ग्रिड, ओएनजीसी, अल्ट्राटेक सीमेंट, एशियन पेंट्स, कोटक बैंक और टाइटन शामिल हैं। इनमें 5.94 प्रतिशत की तेजी आयी।

मुंबई। आर्थिक वृद्धि के सकारात्मक दायरे में आने के साथ बीएसई सेंसेक्स सोमवार को करीब 750 अंक उछलकर बंद हुआ।एनएसई निफ्टी में भी 232 अंक से अधिक की तेजी आयी। चालू वित्त वर्ष में शुरू की दो तिमाहियों में आर्थिक वृद्धि में गिरावट के बाद तीसरी तिमाही अक्टूबर-दिसंबर में जीडीपी में वृद्धि दर्ज की गयी है। तीस शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स दोपहर कारोबार में कुछ समय के लिये 50,000 के ऊपर तक चला गया था। पर अंत में यह 749.85 अंक यानी 1.53 प्रतिशत उछलकर 49,849.84 अंक पर बंद हुआ। इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 232.40 अंक यानी 1.60 प्रतिशत की बढ़त के साथ 14,761.55 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में 29 लाभ में रहे।बेहतर प्रदर्शन करने वाले प्रमुख शेयरों में पावर ग्रिड, ओएनजीसी, अल्ट्राटेक सीमेंट, एशियन पेंट्स, कोटक बैंक और टाइटन शामिल हैं। इनमें 5.94 प्रतिशत की तेजी आयी। शुक्रवार को जारी राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय के आंकड़े के अनुसार सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में चालू वित्त वर्ष 2020-21 की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में सालाना आधार पर 0.4 प्रतिशत की वृद्धि हुई।

इसे भी पढ़ें: सेंट्रल बैंक के MD और CEO नियुक्त किए गए केनरा बैंक के कार्यकारी निदेशक माटम वेंकट राव

विश्लेषकों के अनुसार बिजली खपत, निर्यात, माल ढुलाई जैसे आंकड़ें यह संकेत देते हैं कि घरेलू अर्थव्यवस्था धीरे-धीरे पुनरूद्धार के रास्ते पर लौट रही है। बीएसई सेंसेक्स पिछले सपताह शुक्रवार को 1,939.32 अंक जबकि एनएसई निफ्टी 568.20 अंक लुढ़क गये थे। शेयर बाजार में उपलब्ध आंकड़े के अनुसार विदेशी निवेशकों ने शुद्ध आधार पर शुक्रवार को 8,295.17 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे। बांड बाजारों में कुछ स्थिरता के साथ एशिया के अन्य बाजारों में भी तेजी रही।इसके अलावा, अमेरिका में प्रोत्साहन पैकेज के मामले में कुछ प्रगति की खबर से भी निवेशकों की धारणा मजबूत हुई। इस बीच, वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.88 प्रतिशत की गिरावट के साथ 65.39 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ। विदेशी मुद्रा बाजार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये की विनिमय दर 8 पैसे टूटकर 73.55 पर बंद हुई।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept