मोबाइल इंडस्ट्री ने सरकार से की मोबाइल फोन पर आयात शुल्क घटाने की मांग

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 31, 2020   11:10
मोबाइल इंडस्ट्री ने सरकार से की मोबाइल फोन पर आयात शुल्क घटाने की मांग

इंडिया सेल्यूलर एंड इलेक्ट्रॉनिक्स एसोसएिशन ने मोबाइल फोन पर आयात शुल्क घटाने की मांग की है।आईसीईए के सदस्यों में एप्पल, फॉक्सकॉम, विस्ट्रोन, लावा समेत अन्य कंपनियां शामिल हैं।

नयी दिल्ली। मोबाइल उद्योग संगठन आईसीईए (इंडिया सेल्यूलर एंड इलेक्ट्रॉनिक्स एसोसएिशन) ने सरकार को मोबाइल फोन पर आयात शुल्क कम करने का सुझाव दिया है।संगठन का कहना है कि घरेलू मोबाइल विनिर्माता प्रतिस्पर्धा का सामना करने के लिये अब तैयार हैं। संगठन ने उन कंपनियों कोनिर्यात उत्पादों पर शुल्कों तथा करों में छूट (आरओडीटीईपी) का लाभ देने की मांग की है जिन्हें उत्पादन आधारित प्रोत्साहन (पीएलआई) के लिये चुना गया है। आईसीईए के सदस्यों में एप्पल, फॉक्सकॉम, विस्ट्रोन, लावा समेत अन्य कंपनियां शामिल हैं।

इसे भी पढ़ें: छठवें दिन भी शेयर बाजार में शानदार बढ़त, 14000 के करीब बंद हुआ निफ्टी

आगामी बजट के लिये राजस्व विभाग को सौंपे अपने अनुरोध पत्र में इंडिया सेल्यूलर एंड इलेक्ट्रॉनिक्स एसोसिएशन के चेयरमैन पंकज महेन्द्रू ने कहा, ‘‘आयात से अब घरेलू कंपनियों को कोई खतरा नहीं है और आयात में 20 प्रतिशत शुल्क को कम किया जा सकता है।क्योंकि देश में बड़े स्तर पर विनिर्माण जारी है और उद्योग प्रतिस्पर्धा का सामना करने में सक्षम है।’’ दुनिया की प्रमुख मोबाइल फोन बनाने वाली कंपनियों ने पीएलआई (उत्पादन आधारित प्रोत्साहन) केक्रियान्वयन के बाद भारत में उत्पादन का विस्तार किया है। महेन्द्रू ने मोबाइल फोन पर जीएसटी दर को भी मौजूदा 18प्रतिशत से घटाकर 12 प्रतिशत करने का सुझाव दिया है ताकि इस क्षेत्र में तेज से बढ़ रही अवैध बाजार पर अंकुश लगाया जा सके और आम आदमी को मोबाइल फोन सुलभ हो सके।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।