कल्याण ज्वेलर्स को आभूषण अग्रिम खरीद योजना से आमदनी में 25% वृद्धि की उम्मीद

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 12 2019 6:15PM
कल्याण ज्वेलर्स को आभूषण अग्रिम खरीद योजना से आमदनी में 25%  वृद्धि की उम्मीद
Image Source: Google

कंपनी के कार्यकारी निदेशक राजेश कल्याणरमन ने मंगलवार को यह बात कही। सरकार ने 21 फरवरी को अध्यादेश जारी बिना नियमन दायरे वाली जमा योजनाओं पर प्रतिबंध लगाया था।

नयी दिल्ली। सरकार द्वारा आभूषण कंपनियों द्वारा चलाई जा रही बिना नियमन वाली जमा योजनाओं पर रोक लगाने के बाद कल्याण ज्वेलर्स इंडिया लि. (केजेआईएल) ने उम्मीद जताई है कि नियमन के दायरे में आने वाली आभूषण अग्रिम खरीद योजनाओं से उसकी आमदनी में 25 प्रतिशत वृद्धि की उम्मीद है। कंपनी के कार्यकारी निदेशक राजेश कल्याणरमन ने मंगलवार को यह बात कही। सरकार ने 21 फरवरी को अध्यादेश जारी बिना नियमन दायरे वाली जमा योजनाओं पर प्रतिबंध लगाया था। कल्याणरमन ने कहा कि कंपनी आभूषण खरीद की अग्रिम योजनाओं के जरिये उल्लेखनीय वृद्धि की उम्मीद कर रही है। 

इसे भी पढ़ें: तेल एवं गैस खोज के क्षेत्र में सरकार ने किया बदलाव, उत्पादन लाभ में हिस्सा नहीं मांगेगी

उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि इन योजनाओं के जरिये आमदनी में 25 प्रतिशत की वृद्धि की जा सकती है। उन्होंने कहा कि कंपनी को हालिया अध्यादेश से अपनी आभूषण खरीद की अग्रिम योजनाओं पर सकारात्मक असर पड़ने की उम्मीद है।केरल की आभूषण कंपनी 2016 से ही ‘धनवर्षा और अक्षय’ जैसी अग्रिम खरीद योजनायें चला रही है।

इसे भी पढ़ें: लगातार कम हो रही है नौकरीपेशा महिलाओं की संख्या, जानें क्या है वजह?

इस योजना के तहत ग्राहक को 11 महीने तक मासिक किस्त के जरिये भुगतान करना होता है और उसके बाद वह कुल जमा राशि को दूसरे लाभ के साथ आभूषणों के साथ प्राप्त कर सकता है। योजना कंपनी कानून के तहत मंजूर है।  वर्तमान में कल्याण ज्वैलर्स के देश में 102 स्टोर हैं। कंपनी के विदेशों में भी 32 स्टोर है। वर्ष 2017- 18 में उसका कुल कारोबार 10,500 करोड़ रुपये रहा था। 



रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप