मोबाइल कंपनी Vivo भारत में 4,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 20, 2019   15:09
मोबाइल कंपनी Vivo भारत में 4,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी

विस्तार योजना के बारे में बताया, अभी ग्रेटर नोएडा में हमारा मोबाइल कारखाना है, जिसकी सालाना विनिर्माण क्षमता 2.5 करोड़ की है। इससे आगे बढ़ते हुए हमने 169 एकड़ के भूखंड में विस्तार की योजना बनायी है।

नयी दिल्ली। चीन की मोबाइल निर्माता कंपनी वीवो ने बुधवार को कहा कि भारत का बाजार उसके लिए अहम है और वह आने वाले समय में यहां चार हजार करोड़ रुपये का और निवेश करेगी। वीवो इंडिया के निदेशक (ब्रांड रणनीति) निपुण मार्या ने बातचीत में कहा कि कंपनी भारत के स्मार्टफोन बाजार की हर श्रेणी में अपनी जोरदार उपस्थिति बनाये रखने की दिशा में काम कर रही है।

इसे भी पढ़े- चुनाव से पहले किसानों को सरकार का तौहफा, शुरू होगी कुसुम योजना

वीवो के नये स्मार्टफोन वी-15 प्रो को भारतीय बाजार में उतारने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम से इतर मार्या ने भारत में कंपनी की विस्तार योजना के बारे में बताया, "अभी ग्रेटर नोएडा में हमारा मोबाइल कारखाना है, जिसकी सालाना विनिर्माण क्षमता 2.5 करोड़ की है। इससे आगे बढ़ते हुए हमने 169 एकड़ के भूखंड में विस्तार की योजना बनायी है। हम इसके तहत चरणबद्ध तरीके से 4,000 करोड़ रुपये का निवेश करेंगे। पहले चरण में ही इससे 5,000 लोगों को रोजगार मिलेगा।"

इसे भी पढ़े- खादी ग्रामोद्योग विकास योजना 2019-20 तक जारी रहेगी- सरकार

वीवो का नया फोन 32 मेगापिक्सल के पॉप सेल्फी कैमरे से लैस है। इस फोन में कृत्रिम मेधा (आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस) से लैस ट्रिपल रियर कैमरा है। छह जीबी के रैम और 128 जीबी के मेमोरी वाले इस फोन की कीमत कंपनी ने 28,990 रुपया रखी है। यह स्मार्टफोन क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 675 प्रोसेसर एवं एंड्रॉयड 9 प्लेटफॉर्म के साथ चलता है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।