अमीरों में आबाद हुए मुकेश अंबानी, दुनिया के 8वें सबसे अमीर व्यक्ति बने

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Feb 27 2019 12:26PM
अमीरों में आबाद हुए मुकेश अंबानी, दुनिया के 8वें सबसे अमीर व्यक्ति बने
Image Source: Google

मुकेश अंबानी, 3.83 लाख करोड़ रुपये के नेटवर्क के साथ इस वैश्विक सूची में दसवें स्थान पर रहे। जबकि भारतीयों में उनका पहला स्थान रहा। रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में तेजी के बल पर उनकी स्थिति में यह सुधार दर्ज किया गया है।

मुंबई। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी दुनिया के 10 सबसे अमीर लोगों की सूची में शामिल हो गए हैं। उनके पास 54 अरब डॉलर की संपत्ति है। हालांकि, उनके छोटे भाई अनिल अंबानी अमीर शख्सियतों की सूची में जगह नहीं बना पाए। उनकी संपत्ति में 65 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी है। दुनियाभर के अमीर लोगों की हुरुन 2019 सूची में अमेजन के प्रमुख जेफ बेजोस लगातार दूसरे साल शीर्ष पर रहे हैं। धनवानों की वैश्विक सूची में 96 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स दूसरे, 88 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ बर्कशायर हाथवे के चेयरमैन वारेन बफे तीसरे, 86 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ एलवीएमएच के बर्नार्ड अर्नाल्ट चौथे स्थान पर हैं। फेसबुक के मार्क जुकरबर्ग 80अरब डॉलर की संपत्ति के साथ पांचवें स्थान पर हैं।

इसे भी पढ़ें: ऑनलाइन खुदरा बाजार में रिलांयस के पदार्पण से प्रतिस्पर्धा बढ़ेगी, ग्राहक फायदे में होंगे

मुकेश अंबानी, 3.83 लाख करोड़ रुपये के नेटवर्क के साथ इस वैश्विक सूची में दसवें स्थान पर रहे। जबकि भारतीयों में उनका पहला स्थान रहा। रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में तेजी के बल पर उनकी स्थिति में यह सुधार दर्ज किया गया है। पिछले महीने ही रिलायंस के शेयरों का बाजार पूंजीकरण आठ लाख करोड़ रुपये के आंकड़े को छू गया। अंबानी के पास रिलायंस में करीब करीब 52 प्रतिशत हिस्सेदारी है। वहीं, अनिल अंबानी को पिछले सात साल में करीब पांच अरब डॉलर का नुकसान हुआ है। इस वर्ष उनकी संपत्ति करीब 1.9 अरब डॉलर रही। उच्चतम न्यायालय ने पिछले सप्ताह ही अनिल अंबानी को एरिक्सन का 540 करोड़ रुपये नहीं चुकाने पर अवमानना का दोषी ठहराया है।
हुरुन ने अपनी रपट में कहा कि पारिवारिक संपत्ति के बंटवारे के बाद लगभग एक समान स्थिति के साथ कारोबार की शुरूआत करने वाले मुकेश ने पिछले सात वर्षों में अपनी संपत्ति में 30 अरब डॉलर जोड़े हैं, जबकि अनिल की संपत्ति में पांच अरब डॉलर से अधिक की कमी दर्ज की गयी है। हुरुन की मंगलवार को जारी रपट में कहा गया है कि सबसे धनी भारतीयों की सूची में 21 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ हिन्दुजा समूह के चेयरमैन एसपी हिन्दुजा दूसरे स्थान पर हैं। वहीं 17 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ विप्रो के चेयरमैन अजीम प्रेमजी इस सूची में तीसरे पायदान पर हैं। पूनावाला समूह के चेयरमैन साइरस एस पूनावाला 13 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ भारतीयों में चौथे स्थान पर रहे हैं। इतना ही नहीं उन्होंने दुनिया के सबसे धनी लोगों की सूची में 100 में जगह बना ली है।
 
आर्सेलर मित्तल के चेयरमैन लक्ष्मी निवास मित्तल सबसे अमीर भारतीयों की सूची में पांचवें पायदान पर हैं। इसके बाद कोटक महिंद्रा के उदय कोटक (11 अरब डॉलर), गौतम अडाणी (9.9 अरब डॉलर) और सन फार्मा के दिलीप सांघवी (9.5 अरब डॉलर) का स्थान आता है। साइरस पलोनजी मिस्त्री और शापूरजी पलोनजी मिस्त्री इस सूची में क्रमशः नौवें और दसवें स्थान पर हैं। देश के सबसे बड़े टाटा समूह में 18.4 प्रतिशत की हिस्सेदारी के दम पर वे इस सूची में जगह बना पाए हैं। सूची के मुताबिक गोदरेज परिवार की तीसरी पीढ़ी की उत्तराधिकारी स्मिता कृष्णा महिला अरबपतियों की सूची में पहले स्थान पर हैं। वहीं बायोकॉन की किरण मजूमदार शॉ साढ़े तीन अरब डॉलर की संपत्ति के साथ अपने दम पर मुकाम हासिल करने वाली सबसे अमीर महिला उद्यमी हैं।


 
हुरुन रिपोर्ट इंडिया के प्रबंध निदेशक और मुख्य शोधकर्ता अनस रहमान जुनैद ने कहा, "वर्ष 2012 के बाद यह पहला मौका है जब भारत हुरुन के धनाढयों की वैश्विक सूची में पांचवें स्थान पर पहुंच गया है। रुपये के मूल्य में गिरावट और कमजोर शेयर बाजार की वजह से देश इस सूची में नीचे आ गया।’’ रपट में कहा कि यह साल मीडिया के अरबपतियों के लिए बहुत खराब रहा है। जी के सुभाष चंद्रा और सन टीवी के कलानिधि मारन की संपत्ति में काफी नुकसान हुआ।


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video