प्रधानमंत्री ने आयुष्मान भारत के लाभार्थियों से कोई भी नशा न करने को कहा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 18, 2019   09:01
प्रधानमंत्री ने आयुष्मान भारत के लाभार्थियों से कोई भी नशा न करने को कहा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वास्थ्य लाभ ले रहे लाभार्थियों से कहा कि वे किसी भी प्रकार का नशा न तो खुद करें और न ही अपने परिवार में किसी भी सदस्य को करने दें।

रांची। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को यहां हवाई अड्डे पर आयुष्मान भारत के लाभार्थियों से मुलाकात के दौरान उनसे संकल्प कराया कि वे स्वयं कभी कोई नशा नहीं करेंगे और अपने किसी परिजन को भी किसी तरह के नशे की गिरफ्त में नहीं आने देंगे। प्रधानमंत्री ने स्वास्थ्य लाभ ले रहे लाभार्थियों से कहा कि वे किसी भी प्रकार का नशा न तो खुद करें और न ही अपने परिवार में किसी भी सदस्य को करने दें। मोदी लगभग पांच बजे सायं हजारीबाग की अपनी जनसभा से लौटकर बिरसा मुंडा हवाई अड्डा रांची के समीप आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे और वहां प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना आयुष्मान भारत के लाभुकों से मिले और उनका अनुभव जाना।

इसे भी पढ़ें: आयुष्मान भारत योजना के तहत अब तक 10 लाख मरीजों का हुआ इलाज

प्रधानमंत्री ने लाभुकों से मिलकर उनके स्वास्थ्य संबंधी जानकारी ली। आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों ने प्रधानमंत्री के समक्ष अपने अनुभव साझा किए। झारखंड के सभी जिलों से पहुंचे लाभार्थियों ने प्रधानमंत्री को आयुष्मान भारत योजना के लागू होने से पहले की स्थिति और वर्तमान स्थिति कि पूरी जानकारी दी। लाभुकों ने प्रधानमंत्री को इस योजना को सफलतापूर्वक लागू किए जाने को लेकर धन्यवाद दिया। प्रधानमंत्री मोदी ने लाभार्थियों से तीन महत्वपूर्ण वादे लिए- प्रधानमंत्री ने कहा कि सर्वप्रथम तो बेटियों को शिक्षित करने में कोई कसर नहीं छोड़ें। बेटों के अनुरूप ही बेटियों को भी पढ़ने का पूरा मौका दें। समाज में कोई एक भी बेटी अशिक्षित नहीं रहे यह सुनिश्चित करें।’

दूसरे प्रधानमंत्री ने उपस्थित लाभुकों से कहा कि स्वच्छ भारत मिशन को साकार करें। अपने घर की साफ-सफाई साथ ही आस पड़ोस की स्वच्छता में भी सहभागी बनें। उन्होंने तीसरा वादा लिया कि सभी लोग किसी भी प्रकार के नशे से परहेज करें। इससे पूर्व हजारीबाग में जनसभा में प्रधानमंत्री ने आज हजारीबाग, दुमका और पलामू में मेडिकल कॉलेज के 885 करोड़ रुपये की लागत से नवनिर्मित भवनों का ऑनलाइन उद्घाटन किया जबकि रामगढ़ में महिला इंजीनियरिंग कॉलेज के नवनिर्मित भवन का भी उद्घाटन किया। मोदी ने इसके अलावा 500 बेड के 4 अस्पतालों (हजारीबाग दुमका पलामू और जमशेदपुर) की ऑनलाइन आधारशिला भी रखी। इनकी लागत 1904 करोड़ रुपये होगी।

इसे भी पढ़ें: गरीब परिवारों के लिए बेहद लाभकारी सिद्ध हो रही है आयुष्मान भारत योजना

प्रधानमंत्री मोदी ने ग्रामीण पेय जलापूर्ति योजना के तहत रामगढ़ की एक योजना तथा हजारीबाग की तीन पूर्ण योजनाओं का भी रविवार को उद्घाटन किया। मोदी ने इसी अवसर पर साहिबगंज सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट और नमामि गंगे योजना के तहत वहां मधुसूदन घाट का भी उद्घाटन किया। प्रधानमंत्री ने 517 करोड़ रुपये की हजारीबाग के शहरी पाइप लाइन पेय जलापूर्ति योजना और रामगढ़ की दो ग्रामीण पेयजलापूर्ति योजनाओं का भी शिलान्यास किया। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।