2019 के मध्य तक चीनी बंदरगाह शहर परियोजना पूरी करेगा श्रीलंका

Sri Lanka to complete Chinese port city project by mid 2019
श्रीलंका की राजधानी के बीचोंबीच 1.4 अरब डॉलर की चीनी बंदरगाह शहर परियोजना वर्ष 2019 के मध्य में पूरी होगी। महानगर विकास मंत्री चम्पिका राणावाके ने आज बताया कि ‘कोलंबो पोर्ट सिटी’ समुद्र का पानी पीछे करके 269 एकड़ में बनाई जाएगी।

कोलंबो। श्रीलंका की राजधानी के बीचोंबीच 1.4 अरब डॉलर की चीनी बंदरगाह शहर परियोजना वर्ष 2019 के मध्य में पूरी होगी। महानगर विकास मंत्री चम्पिका राणावाके ने आज बताया कि ‘कोलंबो पोर्ट सिटी’ समुद्र का पानी पीछे करके 269 एकड़ में बनाई जाएगी। इसमें से 62 एकड़ का क्षेत्र श्रीलंका सरकार का होगा और चीन पट्टे पर 116 हेक्टेयर भूमि रखेगा, शेष भाग आम सार्वजनिक सुविधा क्षेत्रों के लिए होगा।

राणावाके ने चीन और राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे की पूर्व श्रीलंकाई सरकार के बीच समझौते पर आधारित परियोजना के बारे में कहा, ‘‘यह हिंद महासागर में नया वित्तीय एवं वाणिज्यिक केंद्र होगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘समुद्र को हटाने का 50 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है। यह काम 2019 में पूरा हो जाएगा।’’ राणावाके ने कहा कि कोलंबो म्युनिसिपल कौंसिल के अलावा एक नई कंपनी शहर का प्रबंधन करेगी।

राजपक्षे के बाद राष्ट्रपति पद संभालने वाले मैत्रीपाला सिरीसेना की सरकार ने अनियमितताओं का हवाला देते हुए इस परियोजना को रोक दिया गया था लेकिन चीन सरकार के दबाव में वर्ष 2016 में इसे हरी झंडी दी गई। चाइना कम्युनिकेशंस कंस्ट्रक्शन कंपनी लिमिटेड (सीसीसीसी) कोलंबो पोर्ट सिटी को विकसित करेगी और इसमें निवेश करेगा। यह चीन द्वारा प्रस्तावित बेल्ट एंड रोड पहल के तहत चीन एवं श्रीलंका के बीच सबसे बड़ी परियोजना है। चीन ने यह भी दावा किया है कि इस बंदरगाह शहर से स्थानीय लोगों के लिए रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़