टाटा हाउसिंग का पहली तिमाही का राजस्व पांच गुना बढ़कर 623 करोड़ हुआ

Tata Housings
Common creative
टाटा हाउसिंग का पहली तिमाही का राजस्व पांच गुना बढ़कर 623 करोड़ रुपये पर पहुंचा।टाटा रियल्टी एंड इंफ्रास्ट्रक्चर के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी संजय दत्त ने कहा, ‘‘कोरोना वायरस की पिछली लहर के बाद हालात सामान्य होने से मांग बढ़ी है।

नयी दिल्ली। टाटा हाउसिंग की आवासीय परियोजनाओं की मजबूत मांग के बूते अप्रैल-जून 2022-23 के दौरान बिक्री पांच गुना बढ़कर 623 करोड़ रुपये हो गई। टाटा हाउसिंग, टाटा सन्स प्राइवेट लिमिटेड की पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी है और यह प्रमुख शहरों में परियोजनाओं का विकास कर रही है। टाटा रियल्टी एंड इंफ्रास्ट्रक्चर के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी संजय दत्त ने कहा, ‘‘कोरोना वायरस की पिछली लहर के बाद हालात सामान्य होने से मांग बढ़ी है। पहली तिमाही में टाटा हाउसिंग को 623 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ है।

इसे भी पढ़ें: पोत परिवहन पर अगले छह महीने तक मिलेगी बंदरगाह, पोत शुल्क से छूट

इसके अलावा मालदीव में लक्सा वन परियोजना भी शुरू की।’’ पिछले वर्ष जून तिमाही में कोविड की दूसरी लहर की वजह से लगभग सभी रियल एस्टेट डेवलपरों की आवास बिक्री बुरी तरह से प्रभावित हुई थी। दत्त ने उम्मीद जताई की चालू वित्त वर्ष में कंपनी को तीन अंकों में वृद्धि हासिल होगी। उन्होंने कहा, ‘‘कंपनी ने 2021-22 में कुल 1,688 इकाई की बिक्री की। चालू वित्त वर्ष में जो गति बनी हुई है उससे संकेत मिलता है कि तीन अंकों की वृद्धि हासिल हो सकती है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़