RCB vs RR: बेंगलोर की एक और हार, लो स्कोरिंग मैच में राजस्थान रॉयल्स ने 29 रनों से हराया

RCB vs RR: बेंगलोर की एक और हार, लो स्कोरिंग मैच में राजस्थान रॉयल्स ने 29 रनों से हराया
ANI pictures

रियान पराग ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) कसी हुई गेंदबाजी के बीच नाबाद अर्धशतक जमाया लेकिन इसके बावजूद राजस्थान रॉयल्स ने अपने दिग्गज बल्लेबाजों की नाकामी के कारण आठ विकेट पर 144 रन ही बना पाया। पराग ने 31 गेंदों नाबाद 56 रन बनाये जिसमें तीन चौके और चार छक्के शामिल हैं।

रियान पराग की धैर्य पूर्ण पारी और बाद में गेंदबाजों की शानदार गेंदबाजी की बदौलत राजस्थान रॉयल्स ने लो स्कोरिंग मुकाबले में बैंगलोर रॉयल चैलेंजर्स को कितने रनों से हरा दिया है। पहले बल्लेबाजी करते हुए राजस्थान रॉयल्स की टीम ने 144 रन बनाए थे जिसके जवाब में बेंगलुरु की टीम 115 रन ही बना सकी। बेंगलोर का टॉप ऑर्डर आज भी फ्लॉप साबित हुआ। विराट कोहली 9 रन बनाकर प्रसिद्ध कृष्णा के शिकार हुए जबकि कप्तान फॉफ डू प्लेसिस ने 23 रनों की पारी खेली। ग्लेन मैक्सवेल शून्य पर आउट हुए। वही आज के मुकाबले में शहबाज अहमद और दिनेश कार्तिक भी रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के लिए संकटमोचक की भूमिका अदा नहीं कर पाए। राजस्थान रॉयल्स की ओर से आर अश्विन ने 4 ओवर में 17 रन देकर तीन विकेट चटकाए। वहीं कुलदीप सेन के खाते में भी तीन विकेट गए। प्रसिद्ध कृष्णा ने भी घातक गेंदबाजी करते हुए 2 बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा। इस जीत के साथ ही राजस्थान रॉयल्स के 12 अंक हो गए हैं।

इसे भी पढ़ें: IPL 2022। खराब फॉर्म से जूझ रही किंग्स, क्या जोस के तूफान को रोक पाएंगे रॉयल गेंदबाज ?

इससे पहले रियान पराग ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) कसी हुई गेंदबाजी के बीच नाबाद अर्धशतक जमाया लेकिन इसके बावजूद राजस्थान रॉयल्स ने अपने दिग्गज बल्लेबाजों की नाकामी के कारण आठ विकेट पर 144 रन ही बना पाया। पराग ने 31 गेंदों नाबाद 56 रन बनाये जिसमें तीन चौके और चार छक्के शामिल हैं। कप्तान संजू सैमसन ने 21 गेंदों पर 27 रन बनाये लेकिन वह उनका गैर जिम्मेदाराना शॉट था जिससे उनकी टीम बैकफुट पर पहुंची। बीच में 44 गेंद तक कोई चौका या छक्का नहीं लगा लेकिन पराग के प्रयासों से आखिरी दो ओवरों में 30 रन बने। आरसीबी की तरफ से जोश हेजलवुड (19 रन देकर दो), वानिंदु हसरंगा (23 रन देकर दो) और मोहम्मद सिराज (30 रन देकर दो) सबसे सफल गेंदबाज रहे लेकिन उसका क्षेत्ररक्षण अच्छा नहीं रहा। पराग को ही 32 रन के निजी योग पर हसरंगा ने जीवनदान दिया। राजस्थान के लिये शुरू में कुछ भी अनुकूल नहीं रहा। पहले उसने टॉस गंवाया और बाद में पावरप्ले में तीन विकेट गंवा दिये जिनमें शानदार फॉर्म में चल रहे जोस बटलर भी शामिल थे जो केवल आठ रन बना पाये। देवदत्त पडिक्कल (सात) आउट होने वाले पहले बल्लेबाज थे जिन्होंने सिराज का स्वागत खूबसूरत छक्के से किया। इस तेज गेंदबाज ने हालांकि उन्हें तुरंत ही पगबाधा आउट कर दिया। 

इसे भी पढ़ें: मुझे हमेशा से उम्मीद थी कि मुकेश बड़े मैचों के लिए बना है: कोच सुरेन्द्र भावे

‘पिंच हिटर’ के रूप में उतरे रविचंद्रन अश्विन (नौ गेंदों पर 17 रन) ने सिराज पर चार चौके लगाकर अपनी भूमिका साबित करने की कोशिश की लेकिन वह इसी गेंदबाज को हवा में लहराता कैच देकर पवेलियन लौट गये। हेजलवुड ने आरसीबी को बटलर का कीमती विकेट दिलाया जिन्होंने शॉर्ट पिच गेंद को पुल करने के प्रयास में मिड ऑन पर सिराज को आसान कैच दिया। राजस्थान ने पावरप्ले में तीन विकेट पर 43 रन बनाये। सैमसन ने आरसीबी के स्पिनरों की लय बिगाड़ने की रणनीति अपनायी। उन्होंने लेग स्पिनर हसरंगा पर छक्के से शुरुआत की और फिर बायें हाथ के स्पिनर शाहबाज अहमद (तीन ओवर में 35 रन) पर लगातार दो छक्के लगाये। सैमसन हालांकि अपनी लय बरकरार नहीं रख पाये और उन्होंने हसरंगा पर लापरवाह अंदाज में रिवर्स स्वीप करने के प्रयास में जल्द ही अपना ऑफ स्टंप उखड़वा दिया। डेरिल मिचेल (16) ने 24 गेंदों का सामना किया लेकिन वे एक बार भी गेंद को सीमा रेखा तक नहीं पहुंचा पाये। इसी दबाव में उन्होंने हेजलवुड को अपना विकेट इनाम में दिया। शिमरोन हेटमायर ने भी ‘बाउंड्री का सूखा’ समाप्त करने के प्रयास में हसरंगा की गेंद हवा में लहराकर आते ही पवेलियन की राह पकड़ी जिससे राजस्थान की डेथ ओवरों की रणनीति गड़बड़ा गयी। पराग ने हालांकि 19वें ओवर में हेजलवुड पर छक्का और चौका तथा हर्षल पटेल के आखिरी ओवर में चौका और दो छक्के लगाकर राजस्थान को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया।