इयान चैपल ने बताया, भारत इंग्लैंड टेस्ट सीरीज में कौन है जीत का दावेदार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 31, 2021   14:16
इयान चैपल ने बताया, भारत इंग्लैंड टेस्ट सीरीज में कौन है जीत का दावेदार

आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान इयान चैपल का मानना है कि आस्ट्रेलिया में हाल की जीत से भारतीय टीम का मनोबल बढ़ा है और कप्तान विराट कोहली की वापसी से अधिक मजबूत हुई है।

नयी दिल्ली। आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान इयान चैपल ने भारत को अपने शानदार आक्रमण और बेहतर बल्लेबाजी के कारण इंग्लैंड के खिलाफ आगामी टेस्ट मैचों की श्रृंखला में जीत का प्रबल दावेदार करार दिया। उनका मानना है कि आस्ट्रेलिया में हाल की जीत से भारतीय टीम का मनोबल बढ़ा है और कप्तान विराट कोहली की वापसी से अधिक मजबूत हुई है। चैपल ने ईएसपीएनक्रिकइन्फो में अपने कॉलम में लिखा, ‘‘आस्ट्रेलिया के खिलाफ तमाम बाधाओं के बावजूद शानदार जीत दर्ज करने के बाद भारत जीत के प्रबल दावेदार के रूप में शुरुआत करेगा। जब आप बल्लेबाजी क्रम में विराट कोहली का नाम जोड़ते हो तो उससे टीम बेहद मजबूत बन जाती है। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘इसके अलावा आर अश्विन, हार्दिक पंड्या और इशांत शर्मा भी खेलने के लिये उपलब्ध रहेंगे जिससे भारत अजेय नजर आता है। ’’ भारत और इंग्लैंड के बीच चार मैचों की श्रृंखला पांच फरवरी से चेन्नई में खेली जाएगी। चैपल का मानना है कि इंग्लैंड ने भले ही हाल में श्रीलंका के खिलाफ 2-0 से क्लीन स्वीप किया हो लेकिन मजबूत शीर्ष क्रम के कारण भारत का पलड़ा भारी है। उन्होंने कहा, ‘‘प्रमुख खिलाड़ी बेन स्टोक्स की उपलब्धता से इंग्लैंड की टीम के लिये महत्वपूर्ण है। 

इसे भी पढ़ें: इंग्लैंड के आलराउंडर मोईन अली बोले, मैं नहीं जानता हम कोहली को कैसे आउट करेंगे

स्टोक्स और हार्दिक पंड्या एक जैसी आलराउंड क्षमता रखते हैं लेकिन इंग्लैंड का खिलाड़ी भारतीय की तुलना में थोड़ा बेहतर है। जोफ्रा आर्चर की वापसी से पहले से मजबूत तेज गेंदबाजी आक्रमण अधिक मजबूत हुआ है। ’’ चैपल ने कहा, ‘‘लेकिन यह इंग्लैंड के शीर्ष क्रम के प्रदर्शन पर निर्भर करेगा जिसमें एक अन्य खिलाड़ी रोरी बर्न्स की वापसी हुई है। इस मामले में भारत बेहतर नजर आता है। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘भारत के शीर्ष तीन बल्लेबाजों में प्रभावशाली शुभमन गिल, प्रतिभाशाली रोहित शर्मा और अदम्य साहसी चेतेश्वर पुजारा है जिससे वह इंग्लैंड के शीर्ष क्रम से बेहतर लगता है। ’’ चैपल ने कहा कि अगर डॉम सिबले और रोरी बर्न्स नहीं चलते हैं तो इससे जो रूट पर काफी दबाव बढ़ जाएगा। उन्होंने कहा, ‘‘डॉम सिबले में उच्चस्तर पर सफल होने के लिये जरूरी दृढ़ता और प्रतिबद्धता है लेकिन अंतरराष्ट्रीय स्तर के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों के सामने उसकी तकनीक पर सवालिया निशान उठने लगते हैं। ’’ चैपल ने कहा, ‘‘बर्न्स भी सिबले की तरह ही है और अगर ये दोनों नाकाम रहते हैं और जो रूट वर्तमान फार्म बरकरार नहीं रख पाते हैं तो इंग्लैंड मुश्किल में पड़ जाएगा। जॉक क्राउले भी गिल की तरह प्रतिभाशाली है लेकिन श्रीलंका में उनकी असफलता के कारण चिंता जतायी जा रही है। उन्हें इसे जल्द दूर करना होगा और इसके लिये इससे बेहतर स्थान या समय नहीं हो सकता है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।