अय्यर का नाबाद अर्धशतक, भारत ने श्रीलंका को छह विकेट से हराकर श्रृंखला क्लीन स्वीप की

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 28, 2022   08:13
अय्यर का नाबाद अर्धशतक, भारत ने श्रीलंका को छह विकेट से हराकर श्रृंखला क्लीन स्वीप की

रोहित की ‘रिजर्व बेंच’ ने जिस तरह का प्रदर्शन किया, यह देखना शानदार था। आवेश खान ने अपने भुला देने वाले पदार्पण की भरपायी करते हुए मोहम्मद सिराज के साथ शानदार शुरूआती स्पैल डाला। यहां तक कि दो कलाई केस्पिनर रवि बिश्नोई (32 रन देकर एक विकेट) और कुलदीप यादव (चार ओवर में 25 रन) ने भी अच्छी गेंदबाजी की।

धर्मशाला|  भारत ने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के बाद श्रेयस अय्यर (नाबाद 73) के लगातार तीसरे अर्धशतक से रविवार को यहां तीसरे और अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में श्रीलंका पर 19 गेंद रहते छह विकेट से जीत दर्ज कर तीन मैचों की श्रृंखला 3-0 से क्लीन स्वीप की।

  श्रीलंकाई टीम कप्तान दासुन शनाका की 38 गेंद में नाबाद 74 रन की पारी के बावजूद टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते हुए पांच विकेट पर 146 रन ही बना सकी। ‘मैन ऑफ द मैच’ और ‘मैन ऑफ द सीरीज’ अय्यर ने 45 गेंद में नौ चौके और एक छक्के से श्रृंखला में लगातार तीसरा नाबाद अर्धशतक जड़ते हुए भारत को 16.5 ओवर में जीत दिलायी।

अय्यर ने तीन मैचों में कुल 204 रन बनाये और एक बार भी आउट नहीं हुए। रविंद्र जडेजा 22 रन बनाकर नाबाद रहे जिससे भारत ने चार विकेट पर 148 रन बनाये। यह भारत की टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में लगातार 12वीं जीत है।

कप्तान रोहित शर्मा का भारतीय जर्सी के लिये यह 125वां टी20 मैच था जिससे वह विश्व क्रिकेट में सबसे ज्यादा टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले खिलाड़ी बन गये।

उनके साथ संजू सैमसन (18) पारी का आगाज करने उतरे। पर रोहित (05) केवल नौ गेंद खेलकर एक चौका ही लगा पाये थे कि दुष्मंता चमीरा की अतिरिक्त उछाल लेती गेंद ने उन्हें आउट कर दिया।

दिलचस्प है कि टी20 अंतरराष्ट्रीय में चमीरा ने रोहित को छठी बार आउट किया। अय्यर अब क्रीज पर थे, जिन्होंने अपनी पांचवीं गेंद पर बिनुरा फर्नांडो पर चौका लगाकार हाथ खोले। फिर लाहिरू कुमारा के अगले ओवर में तीन चौके जमाकर तेजी से रन जुटाना शुरू कर दिया। पावरप्ले में टीम ने एक विकेट गंवाकर 47 रन बना लिये थे।

सैमसन ने सातवें ओवर की पहली गेंद को चौके के लिये भेजा लेकिन चामिका करूणारत्ने की गेंद पर विकेटकीपर दिनेश चांदीमल ने उनका कैच लपक लिया। अब अय्यर का साथ निभाने दीपक हुड्डा आये जिन्होंने एक चौके और एक छक्का लगाकर 21 रन का योगदान दिया लेकिन 11वें ओवर में लाहिरू कुमारा की गेंद पर बोल्ड हो गये। अय्यर ने 12वें ओवर में जेफरे वांडरसे पर मिडविकेट पर गगनचुंबी छक्का जड़कर श्रृंखला में नाबाद अर्धशतकों की हैट्रिक लगायी।

पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करने आये वेंकटेश अय्यर (05) लाहिरू कुमारा का दूसरा शिकार बने। फिर जडेजा और अय्यर ने पांचवें विकेट के लिये नाबाद 45 रन की साझेदारी निभाकर टीम को आसान जीत दिलायी।  

रोहित की ‘रिजर्व बेंच’ ने जिस तरह का प्रदर्शन किया, यह देखना शानदार था। आवेश खान ने अपने भुला देने वाले पदार्पण की भरपायी करते हुए मोहम्मद सिराज के साथ शानदार शुरूआती स्पैल डाला। यहां तक कि दो कलाई के स्पिनर रवि बिश्नोई (32 रन देकर एक विकेट) और कुलदीप यादव (चार ओवर में 25 रन) ने भी अच्छी गेंदबाजी की।

काफी हैरानी की बात है कि दो साल से बिश्नोई केवल गुगली ही फेंक रहे हैं लेकिन ये इतनी सटीक हैं कि इंडियन प्रीमियर लीग में और अब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बल्लेबाजों को उनका अंदाजा ही नहीं हो पा रहा। कप्तान शनाका ने नौ चौके और दो छक्के जड़ित नाबाद पारी खेलकर फिर टीम को बचाया जिससे वह श्रीलंका को 150 रन के करीब ले गये।  लेकिन आवेश (चार ओवर में एक मेडन से 23 रन देकर दो विकेट) और सिराज (चार ओवर में 22 रन) ने अपनी तेजी और उछाल से श्रीलंका के शीर्ष क्रम को ध्वस्त किया जिससे चौथे ओवर तक टीम का स्कोर तीन विकेट पर 11 रन था। इससे वापसी करना मुश्किल था।

सिराज ने पहले धनुष्का गुणतिलक (शून्य) को शार्ट गेंद पर आउट किया जिसे इस बल्लेबाज ने पुल करने की कोशिश की थी।

ईडन गार्डन्स पर पदार्पण पर 40 रन देने वाले आवेश ने फुल लेंथ गेंदबाजी की और पथुम निसांका (01) और चरिथ असालंका (04) को पवेलियन भेजा। भारतीय गेंदबाजों के प्रदर्शन की खास बात यह रही कि उप कप्तान जसप्रीत बुमराह, अनुभवी भुवनेश्वर कुमार और पहली पसंद के कलाई के स्पिनर युजवेंद्र चहल को इस मैच में ब्रेक दिया गया। कप्तान के पास काफी विकल्प हैं क्योंकि वह और कोच राहुल द्रविड़ धीरे धीरे एक सेट-अप बना रहे हैं जिसमें उनके पास दोनों विभागों में प्रत्येक स्थान के लिये कई विकल्प रहें। हालांकि टी20 टीम में एक अच्छे ऑफ स्पिनर की कमी थी। वर्ना टीम अच्छी दिखती है।

साथ ही इस श्रृंखला में विराट कोहली, ऋषभ पंत और लोकेश राहुल नहीं खेल रहे हैं। सूर्यकुमार यादव, दीपक चाहर और अब इशान किशन चोटिल हैं जबकि शार्दुल ठाकुर को आराम दिया गया है।

फिर भी एक टेस्ट विशेषज्ञ जैसे सिराज और आवेश या हर्षल पटेल (29 रन देकर एक विकेट) टी20 विश्व कप से आठ महीने पहले चयन के लिये खुद को साबित करने में लगे हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।