महानगरों के वर्किंग कपल की चुनौतियों पर आधारित है 'रिबन'

By प्रीटी | Publish Date: Nov 6 2017 2:57PM
महानगरों के वर्किंग कपल की चुनौतियों पर आधारित है 'रिबन'
Image Source: Google

इस सप्ताह प्रदर्शित फिल्म ''रिबन'' महानगरों के वर्किंग कपल की जिंदगी की चुनौतियों पर आधारित है। साथ ही निर्देशक ने बाल यौन शोषण जैसी गंभीर समस्या की ओर भी ध्यान आकर्षित किया है।

इस सप्ताह प्रदर्शित फिल्म 'रिबन' महानगरों के वर्किंग कपल की जिंदगी की चुनौतियों पर आधारित है। साथ ही निर्देशक ने बाल यौन शोषण जैसी गंभीर समस्या की ओर भी ध्यान आकर्षित किया है। फिल्म की सबसे बड़ी कमजोरी यह है कि इंटरवेल से पहले की कहानी बेहद धीमी गति से आगे बढ़ती है तो क्लाइमैक्स कुछ ऐसा है कि शायद ही दर्शकों का बड़ा वर्ग इसे पचा सके। लेकिन निर्देशक इस मामले में सराहे जाने चाहिए कि उन्होंने कहानी कहने में पूरी ईमानदारी दिखाई है और चालू मसाला डालने से परहेज किया है।

 
फिल्म की कहानी करण मेहरा (समित व्यास) और उसकी पत्नी साहना मेहरा (कल्कि कोचलिन) के इर्दगिर्द घूमती है। दोनों मुंबई में रहते हैं और प्राइवेट कंपनी में नौकरी करते हैं। दोनों की जिंदगी में तब बड़ा बदलाव आता है जब साहना बताती है कि वह मां बनने वाली है। इस बात को सुन कर करण खुश हो जाता है लेकिन साहना अभी बच्चे के लिए तैयार नहीं है और वह दो तीन साल और चाहती है। लेकिन जब करण उसे समझाता है कि बेबी की जिम्मेदारी वह दोनों मिल कर उठा लेंगे तो साहना तैयार हो जाती है और जल्द ही उसे प्यारी सी बेटी होती है। दोनों मिल कर उसे पाल रहे होते हैं और जब तीन महीने बाद साहना अपना आफिस ज्वाइन करती है तो देखती है कि उसके बॉस ने उसकी जगह किसी और को दे दी है और अब बदले हुए हालात में वह वहां काम नहीं कर पाती। उसे दूसरी कंपनी में नौकरी मिल जाती है उधर करण को आफिस के काम से दूसरे शहर में शिफ्ट होना पड़ता है तो सारी जिम्मेदारी अब साहना पर ही आ जाती है। सहाना की बेटी अब स्कूल जाने लगी है। एक दिन स्कूल बस का कंडक्टर जब नहीं आता तो करण अपनी बेटी को स्कूल बस में छोड़ने के लिए जाता है लेकिन लिफ्ट में उसकी बेटी चॉकलेट की चाह में ऐसी हरकत करती है कि करण के होश उड़ जाते हैं। वह समझ जाता है कि कोई उसकी बेटी का शोषण कर रहा है।
 
अभिनय के मामले में कल्कि का जवाब नहीं। वह अपने रोल में खूब जमी हैं। वह वाकई बेहतरीन अभिनेत्री हैं। सुमित व्यास का काम भी दर्शकों को पसंद आयेगा। अन्य सभी कलाकार सामान्य हैं। फिल्म का एक गाना 'चरखा घूम रहा है' आजकल काफी सुना जा रहा है। निर्देशक राखी की यह फिल्म चालू-मसाला फिल्मों की भीड़ से दूर हटकर बनी है। ऐसे में अलग तरह की फिल्में देखने के शौकीन दर्शकों को ही यह पसंद आयेगी।


 
कलाकार- कल्कि कोचलिन, सुमित व्यास और निर्देशक राखी शांडिल्य।
 
- प्रीटी

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   



Disclaimer: The views expressed here are solely those of the author in his/her private capacity and do not necessarily reflect the opinions, beliefs and viewpoints of Prabhasakshi and do not in any way represent the views of Prabhasakshi.

Related Video