विद्युत जामवाल की बेहतरीन एक्टिंग और नयेपन ने फिल्म 'खुदा हाफिज़' को बनाया शानदार

dd
रेनू तिवारी । Aug 17, 2020 7:21PM
हॉटस्टार पर विद्युत जामवाल की फिल्म 'खुदा हाफिज' 15 अगस्त को रिलीज हो गयी है। फिल्म की कहानी एक सच्ची घटना ने प्रेरित है जिसमें काफी काल्पनिक चीजों को जोड़ा गया है। खुदा हाफिज की कहानी पुरानी है लेकिन तड़के नए तलाशे जाने की कोशिश की गई है।

हॉटस्टार पर विद्युत जामवाल की फिल्म 'खुदा हाफिज' 15 अगस्त को रिलीज हो गयी है। फिल्म की कहानी एक सच्ची घटना ने प्रेरित है जिसमें काफी काल्पनिक चीजों को जोड़ा गया है। खुदा हाफिज की कहानी पुरानी है लेकिन तड़के नए तलाशे जाने की कोशिश की गई है। फिल्म की खासियत ये है कि आप देखना शुरू करेंगे तो देखते ही जाएंगे। लेकिन आखिरी तक जाते-जाते फिल्म इतने सवाल छोड़ जाएगी जिसके जवाब फिल्म बनाने वाले ही दे पाएंगे। फिल्म में एक्शन हीरों को आप पहली बार शानदार एक्टिंग करते पर्दे पर देखेंगे। 

फिल्म की कहानी 

फिल्म की शुरूआत लखनऊ के एक साधारण चौधरी परिवार से होती है, जिसमें वे अपने बेटे समीर चौहरी (विद्युत जामवाल) के लिए लड़की नरगिस (शिवालिका ओबेरॉय) को देखने के लिए आये हैं। नरगिस की मासूम बातें समीर को पसंद आ जाती है और दोनों की शादी होती है। लड़की देखने से लेकर शादी तक का सफर एक गाने में दिखा दिया गया है। शादी को हिंदू और मुस्लिम दोनों रिवाजों से किया जाता है क्योंकि नरगिस के पिता ने इंटर कास्ट शादी की थी। दौर आता है 2008 का जब पूरे देश में आर्थिक मंदी हो जाती है। मंदी का असर समीर और नरगिस की जिंदगी पर पड़ता है दोनों को नोकरी से हटा दिया जाता है। तीन महीने बीतने के बाद नरगिस और समीर देश से बाहर नौकरी करने के लिए अप्लाई करते है जिसमें से नरगिस सलेक्ट हो जाती है। नरगिस जब दूसरे देश में पहुंचती है उनसे जबरदस्ती जिस्मफरोशी करायी जाती है। नरगिस को गायब कर दिया जाता है। नरगिस को बचाने के लिए समीर दूसरे देश पहुंच जाता है अब दूसके देश में समीर अपनी पत्नी को कैसे खोजे का उस सफर को देखने केलिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी।

फिल्म खुदा हाफिज रिव्यू

फिल्म में पहली बार एक्शन और स्टंट के महारथी विद्युत जामवाल एक साधारण किरदार में नजर आयेंगे। विद्युत जामवाल की एक्टिंग को देखकर आप उनसे काफी इंप्रेस होंगे। साधारण परिवार से ताल्लुक रखने वाले और अपनी पत्नी को बहुत प्यार करने वाले समीर चौधरी का किरदार विद्युत जामवाल ने बहुत ही बारीकी से निभाया है। प्यार से लेकर परेशान और नफरत वाले सारे भाव को उनके चेहरे पर देखा जा सकता है। विद्युत जामवाल और एक्ट्रेस शिवालिका ओबेरॉय की केमिस्ट्री भी कमाल की लगी है। अभी तक विद्युत को कभी ऐसे किरदार में नहीं देखा गया। इस फिल्म के बाद उन्होंने ये साबित कर दिया की वह बॉलीवुड में लंबी रेस के खिलाड़ी हैं। शिवालिका ओबेरॉय पर ही पूरी फिल्म बनी है लेकिन फिल्म में उनका रोल कम है। उनके पास फिल्म में करने के लिए ज्यादा कुछ नहीं था।  

फिल्म की सबसे अच्छी चीज है फिल्म का नयापन। फिल्म की कहानी भले ही आपको पुरानी सी लगे लेकिन फिल्म पूरी तरह से नयी है। हर सीन और हर डायलॉग नया है। फिल्म में बॉलीवुड किरदारों से अरबी बुलवायी गयी है वो भी अरब में अरबी बोलने वाले लहजे से, बॉलीवुड के अन्नू कपूर,नवाब शाह,आहना कुमरा और शिव पंडित ने बहुत ही शानदार तरीके से इसपर विजय हासिल की है। ये मानने की बात है कि काफी मेहनत के बाद उन्होंने एक नयी भाषा को फिल्म के लिए सीखा। एक्टिग में भी अन्नू कपूर ने फिल्म में अहम भूनिका निभाई है वो भी पावरफुल। फिल्म को मजबूत इसकी शानदार कास्ट की मेहनत ने बनाया है। 

एक्टर: विद्युत जामवाल,शिवालिका ओबेरॉय,अन्नू कपूर,नवाब शाह,आहना कुमरा,शिव पंडित

डायरेक्टर : फारूख कबीर

श्रेणी: Action, Drama

रिलीज़ डेट: Fri Aug 14 2020

अवधि: 2 Hrs 14 Min

रेटिंग: 4****

अन्य न्यूज़