• मोदी से मुलाकात के बाद सऊदी अरब ने कहा- कश्मीर भारत का आंतरिक मामला

सूत्र ने बताया कि कश्मीर पर भारत के रुख को लेकर सऊदी अरब में वृहद राजनीतिक समझ है। उन्होंने बताया कि मोदी और सऊदी अरब के शीर्ष नेतृत्व के बीच मंगलवार को हुई द्विपक्षीय वार्ता के दौरान कश्मीर पर कोई चर्चा नहीं की गई।

रियाद। सऊदी अरब कश्मीर पर भारत के रुख को समझता है तथा उसका मानना है कि भारत जो भी कर रहा है वह अपनी आबादी की बेहतरी के लिये कर रहा है। यह बात बुधवार को यहां एक भारतीय सूत्र ने कही। सूत्र ने यह टिप्पणी तब की है जब एक दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सऊदी अरब के शाह सलमान बिन अब्दुल अजीज और वली अहद मोहम्मद बिन सलमान के साथ व्यापक चर्चा की।

इसे भी पढ़ें: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने निवेशकों को भारत में निवेश करने का दिया न्योता

सूत्र ने बताया कि कश्मीर पर भारत के रुख को लेकर सऊदी अरब में वृहद राजनीतिक समझ है। उन्होंने बताया कि मोदी और सऊदी अरब के शीर्ष नेतृत्व के बीच मंगलवार को हुई द्विपक्षीय वार्ता के दौरान कश्मीर पर कोई चर्चा नहीं की गई। हालांकि, उन्होंने यह कहा कि दोनों पक्षों के बीच बातचीत में पाकिस्तान का जिक्र किया गया।

इसे भी पढ़ें: एक दशक में और मजबूत हुए भारत-सऊदी अरब के रिश्ते, रणनीतिक साझेदारी पर हुए समझौते

सूत्र ने कहा कि सऊदी अरब कश्मीर को भारत का आंतरिक मामला मानता है। इसी के साथ उन्होंने संकेत दे दिया कि इस मुद्दे पर सऊदी अरब, पाकिस्तान के पक्ष में नहीं है। मोदी और सऊदी अरब के वली अहद (युवराज) के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता के बाद जारी एक संयुक्त बयान में मंगलवार को ‘‘देशों के आंतरिक मामलों में सभी रूपों में हस्तक्षेप को खारिज कर दिया।