जो बाइडेन ने बताया अमेरिका को कैसे राष्ट्रपति की है जरूरत? ट्रंप पर साधा निशाना

Biden
बाइडेन ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प पर हमला बोलते हुए कहा कि अमेरिका को ‘‘ एक ऐसे राष्ट्रपति की जरूरत है, जो अपनी नहीं दूसरों की सोचे, जो लोगों को अलग करने के बजाय उन्हें एकजुट करे, जिसे ‘टीवी रेटिंग’ की बजाय अमेरिका के लोगों की अधिक चिंता हो।

मिलवॉकी (अमेरिका)। डेमोक्रेटिक पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन ने मंगलवार को कहा कि देश में गुस्सा और संदेह बढ़ रहा है और जख्म गहरे होते जा रहे हैं और कोरोना वायरस संक्रमण से बुरी तरह प्रभावित अमेरिका को एक ऐसे राष्ट्रपति की जरूरत है जो देश के लोगों को अलग करने के बजाय उन्हें एकजुट करे। जॉर्जिया के वॉर्म स्प्रिंग्स में एक सभा को संबोधित करते हुए बाइडेन ने खुद को एक ऐसेउम्मीदवार के तौर पर पेश किया जो देश को एकजुट करने के लिए प्रतिबद्ध है। बाइडेन ने कहा, ‘‘ पिछले कुछ महीनों में, अमेरिका ने काफी दर्द, काफी नुकसान उठाया है। 2,25,000 से अधिक लोगों ने अपनी जान गंवाई है, इनमें से कई लोगों ने अस्पतालों के कमरे, नर्सिंग होम में अकेलेजान गंवाई.... अपने आखिरी पलों में उनके पास ना परिवार था, ना दोस्त ना प्रियजन।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ और यह कई परिवार को डराता है, जिन परिवारों को आखिरी बार अलविदा कहने का मौका भी नहीं मिला।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका में महिला हिंदू नागरिकों ने डोनाल्ड ट्रंप को समर्थन देने की अपील की

हमारे समय का दुखद सच यह है कि कोविड ने इस देश में एक गहरा और स्थायी घाव छोड़ दिया है।’’ लाखों अमेरिकियों ने अपनी नौकरी खो दी है और हम खाली दुकानें और बंद व्यवसाय देखते हैं ... जो खोई हुई आशाओं और सपनों को दिखाते हैं।’’ बाइडेन ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प पर हमला बोलते हुए कहा कि अमेरिका को ‘‘ एक ऐसे राष्ट्रपति की जरूरत है, जो अपनी नहीं दूसरों की सोचे, जो लोगों को अलग करने के बजाय उन्हें एकजुट करे, जिसे ‘टीवी रेटिंग’ की बजाय अमेरिका के लोगों की अधिक चिंता हो।’’ इस बीच, फ्लोरिडा में एक चुनावी रैली के दौरान पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा कि ट्रम्प को कोविड-19 की अधिक खबरे दिखाए जाने से जलन है। ओबामा ने कहा, ‘‘ उन्हें कोविड की मीडिया कवरेज से जलन है।’’ साथ ही उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘ अगर शुरुआत से उन्होंने कोविड पर ध्यान दिया होता तो, अधिक मामले सामने ना आ रहे होते। ट्रम्प ने तो व्हाइट हाउस को भी ‘हॉट जोन’ बना दिया।’’ अमेरिका में तीन नवम्बर को राष्ट्रपति चुनाव है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़