जिस बिशप को मिला नोबेल पुरस्कार, वो निकला गरीब बच्चों का यौन शोषण करने वाला, वेटिकन ने लगाया प्रतिबंध

bishop
creative common
बिशप जिमिनीस 1990 के दशक में पूर्वी तिमोर में लड़कों का यौन शोषण करने के आरोपों से घिरे हुए हैं। वेटिकन के प्रवक्ता मैतियो ब्रूनी ने एक बयान जारी कर बताया कि यौन शोषण से जुड़े मामलों को देखने वाले कार्यालय को 2019 में ‘बिशप जिमिनीस के आचरण के बारे में’ शिकायतें मिली थीं।

वेटिकन सिटी। वेटिकन ने बृहस्पतिवार को इस बात की पुष्टि की कि उसने यौन शोषण के आरोपों के बाद बीते दो वर्षों में नोबेल शांति पुरस्कार विजेता बिशप कार्लोस जिमिनीस पर कई अनुशासनात्मक प्रतिबंध लगाए हैं। बिशप जिमिनीस 1990 के दशक में पूर्वी तिमोर में लड़कों का यौन शोषण करने के आरोपों से घिरे हुए हैं। वेटिकन के प्रवक्ता मैतियो ब्रूनी ने एक बयान जारी कर बताया कि यौन शोषण से जुड़े मामलों को देखने वाले कार्यालय को 2019 में ‘बिशप जिमिनीस के आचरण के बारे में’ शिकायतें मिली थीं और उसने एक साल के भीतर उन पर प्रतिबंध लगा दिए। 

इसे भी पढ़ें: इमरान खान का ऑडियो लीक, अपने प्रधान सचिव के साथ विदेशी साजिश पर कर रहे हैं चर्चा

बयान के मुताबिक, बिशप जिमिनीस की आवाजाही और शक्तियों पर प्रतिबंध लगाए गए हैं और उन्हें नाबालिगों के साथ स्वैच्छिक संपर्क या पूर्वी तिमोर के साथ संपर्क करने से प्रतिबंधित कर दिया गया है। बयान में कहा गया है कि प्रतिबंधों को नवंबर 2021 में ‘संशोधित और दोबारा लागू’ किया गया था और दोनों ही अवसरों पर बिशप जिमिनीस ने अपने ऊपर लगाई गई पाबंदियों को औपचारिक रूप से स्वीकार किया था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़