ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरेसा मे ने ब्रेक्जिट पर ‘दूसरी योजना’ की पेश

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jan 21 2019 12:37PM
ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरेसा मे ने ब्रेक्जिट पर ‘दूसरी योजना’ की पेश
Image Source: Google

हालांकि इसके बाद अविश्वास प्रस्ताव में 325 सांसदों ने उनकी सरकार का समर्थन किया जबकि 306 सांसदों ने संसद में लाए गए अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में मतदान किया था और मे 19 मतों के अंतर से जीत गईं थी।

लंदन। ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरेसा मे ने सोमवार को संसद में ब्रेक्जिट पर अपनी ‘दूसरी योजना’ (प्लान बी) पेश की। ईयू से ब्रिटेन के अलग होने संबंधी समझौते को सांसदों द्वारा खारिज किए जाने के बाद उन्होंने यह कदम उठाया। इससे पहले समझौता संसद में पारित नहीं हो पाने के कारण ब्रेक्जिट से पहले ब्रिटेन में राजनीति गर्मा गई है। सांसद यदि समय रहते ऐसी वैकल्पिक योजना तैयार नहीं कर पाते, जिससे ब्रसेल्स खुश हो या ब्रेक्जिट की तय तारीख को स्थगित नहीं किया गया तो ब्रिटेन को बिना किसी समझौते के 29 मार्च को यूरोपीय संघ छोड़ना पड़ सकता है।

इसे भी पढ़ें- दूसरे अमेरिका-उत्तर कोरिया शिखर सम्मेलन के लिए स्थान चुन लिया गया: ट्रंप

गौरतलब है कि मे के समझौते को ‘हाउस ऑफ कामन्स’ में 432 के मुकाबले 202 मतों से हार का सामना करना पड़ा था। हालांकि इसके बाद अविश्वास प्रस्ताव में 325 सांसदों ने उनकी सरकार का समर्थन किया जबकि 306 सांसदों ने संसद में लाए गए अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में मतदान किया था और मे 19 मतों के अंतर से जीत गईं थी। मे ने गुरुवार को नीदरलैंड के प्रधानमंत्री मार्क रट, जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल से बात की।

उन्होंने शुक्रवार को ईयू नेता जीन-क्लाउड जंकर और डोनाल्ड टस्क से भी फोन पर ब्रेक्जिट के संबंध में चर्चा की। ईयू प्रमुखों बहुत पहले ही समझौते पर फिर से बातचीत से इनकार कर चुके हैं लेकिन उन्होंने संकेत दिए हैं कि यदि मे नागरिकों के मुक्त आवागमन को बाधित करने और ईयू के सीमा शुल्क संघ को छोड़ने पर अपनी ‘रेड लाइन’ में बदलाव करती हैं तो वापसी की प्रक्रिया को स्थगित किया जा सकता है।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story