कनाडा के PM ने 18 साल पुरानी एक तस्वीर पर मांगी माफी, कहा- बहुत शर्मिदा हूं

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 20, 2019   11:45
कनाडा के PM ने 18 साल पुरानी एक तस्वीर पर मांगी माफी, कहा- बहुत शर्मिदा हूं

ट्रूडो ने कहा कि चाहे किसी भी परिस्थिति में या किसी भी संदर्भ में चेहरा काला किया गया हो, यह काले चेहरे के नस्लवादी इतिहास की वजह से अस्वीकार्य है। मुझे इस चीज को तब समझना चाहिए था और ऐसा कभी नहीं करना चाहिए था।

ओटावा। कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने अपनी दशकों पुरानी तस्वीर के लिए सार्वजनिक तौर पर माफी मांगी और इस आचरण को ‘पूरी तरह से अस्वीकार’ बताया। 18 साल पुरानी इस तस्वीर में वह एक पगड़ी और पोशाक पहने तथा चेहरे, गर्दन और हाथों का रंग स्याह किए हुए दिख रहे हैं। कनाडा में संघीय चुनाव से पहले ट्रूडो का चेहरे पर काले रंग के मेकअप वाली फोटो और वीडियो सामने आये हैं। खुद प्रधानमंत्री ने इसे ‘नस्लवादी’ करार दिया है। लिबरल पार्टी के प्रमुख ट्रूडो ने कहा कि मैं इसे पूरी तरह से अस्वीकार योग्य मानता हूं। उन्होंने बृहस्पतिवार को विनीपेग में चुनाव प्रचार के बाद एक संवाददाता सम्मेलन में यह बात कही।

ट्रूडो ने कहा कि चाहे किसी भी परिस्थिति में या किसी भी संदर्भ में चेहरा काला किया गया हो, यह काले चेहरे के नस्लवादी इतिहास की वजह से अस्वीकार्य है। मुझे इस चीज को तब समझना चाहिए था और ऐसा कभी नहीं करना चाहिए था। 18 साल पहले की ‘अरेबियन नाइट्स’ थीम वाली एक पार्टी में काले-सफेद रंग की तस्वीर में उस वक्त 29 साल के रहे ट्रुडू एक पगड़ी और पोशाक पहने तथा चेहरे, गर्दन और हाथों का रंग स्याह किए हुए दिख रहे हैं। ट्रुडू 18 साल पहले निजी स्कूल वेस्ट प्वाइंट ग्रे एकेडमी स्कूल में पढ़ाते थे।

इसे भी पढ़ें: मोदी 21 से 27 सितंबर तक अमेरिका की यात्रा पर जायेंगे, यूएनजीए को करेंगे संबोधित

अमेरिका की टाइम पत्रिका ने संघीय चुनाव प्रचार शुरू होने से महज एक हफ्ते पहले यह तस्वीर प्रकाशित की है जहां ट्रुडू की लिबरल पार्टी और एंड्र्यू शीर के बीच कड़ा मुकाबला है। टाइम पत्रिका ने कहा कि यह तस्वीर एक निजी स्कूल वेस्ट प्वाइंट ग्रे एकेडमी की 2000-2001 वार्षिक पुस्तिका में नजर आई थी। ट्रूडू उस वक्त इस स्कूल में पढ़ाते थे। 2015 में ऐतिहासिक जीत दर्ज करने वाली ट्रुडू की पार्टी नैतिकता में चूक और अन्य विवादों के चलते पहले से ही निशाने पर है।

इसे भी पढ़ें: सर्वे में दावा, भारतीय-अमेरिकी करते हैं दोहरी नागरिकता का समर्थन

ट्रुडू ने खुद इस बात की पुष्टि की कि इस फोटो में नजर आ रहे शख्स वही हैं। उन्होंने कहा कि तथ्य यह है कि मैं यह नहीं समझ पाया था कि जिन लोगों के साथ रोजाना इस वजह से भेदभाव होता है, उनके लिए यह कितना दर्दनाक होगा। मैं हमेशा से इस चीज को समझता हूं कि मैं एक ऐसी जगह से आया हूं जहां मुझे विशेषाधिकार मिले हैं। लेकिन मुझे अब यह भी स्वीकार करने की जरूरत है कि मैं चीजों को देख नहीं पाया। ट्रूडो ने कहा कि और इसके लिए मैं बेहद दुखी हूं और मैं माफी मांगता हूं। आधुनिक कनाडा के पिता माने जाने वाले पूर्व प्रधानमंत्री पियरे ट्रूडो के बेटे जस्टिन ट्रूडो ने यह भी स्वीकार किया कि उन्होंने इसी तरह का मेकअप युवावस्था में ‘बनाना बोड सॉन्ग’ गाते हुए स्कूल में पहना था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।