चीन की बड़े पैमाने पर डीएनए डेटाबेस प्लेटफॉर्म बनाने की योजना

China plans to build gigantic DNA database platform
चीन की योजना एक अरब डॉलर की लागत से बड़े पैमाने पर डीएनए श्रंखला का प्लेटफॉर्म बनाने की है। यह जियांग्यू प्रांत में बनाया जाएगा और इसका उद्देश्य जातीय चीनी आबादी के लाखों लोगों की आनुवांशिकी संबंधी जानकारियों को सहेजना है।

बीजिंग। चीन की योजना एक अरब डॉलर की लागत से बड़े पैमाने पर डीएनए श्रंखला का प्लेटफॉर्म बनाने की है। यह जियांग्यू प्रांत में बनाया जाएगा और इसका उद्देश्य जातीय चीनी आबादी के लाखों लोगों की आनुवांशिकी संबंधी जानकारियों को सहेजना है। प्रोवेंशियल हैल्थ ऐंड फैमेली प्लानिंग कमीशन के उप निदेशक लान क्विंग ने कहा कि यह डीएनए परियोजना नेशनल हैल्थ ऐंड मेडिसीन बिग डेटा (नानजिंग) सेंटर का हिस्सा है।

लान ने बताया कि पहले चरण में जियांग्यू की आबादी के बराबर लगभग आठ करोड़ लोगों की स्वास्थ्य और चिकित्सा संबंधी जानकारी केंद्र में एकत्र की जाएगी। सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ के मुताबिक केंद्र के तैयार हो जाने पर डीएनए श्रंखला की क्षमता प्रतिवर्ष 4,00,000 से 5,00,000 नमूने प्रतिवर्ष हो जाएगी। इस परियोजना की जिम्मेदार संयुक्त रूप से सरकारी यांग्जी ग्रुप, साउथईस्ट यूनिवर्सिटी और नानजिंग मेडिकल यूनिवर्सिटी की है।

डेटाबेस में बड़े पैमाने पर एकत्र डेटा का इस्तेमाल शोधकर्ता प्रमुख रोगों में आनुवांशिक परिवर्तनों का अध्ययन करने में करेंगे। इससे प्रमुख रोगों की पहचान और उपचार में भी सांख्यिकी सहायता मिलेगी। डेटाबेस के लगभग चार वर्षों में पूरा हो जाने की उम्मीद है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़