अपनी मुद्राओं को जानबूझकर कमजोर कर रहे हैं चीन और यूरोप: डोनाल्ड ट्रंप

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 4 2019 3:43PM
अपनी मुद्राओं को जानबूझकर कमजोर कर रहे हैं चीन और यूरोप: डोनाल्ड ट्रंप
Image Source: Google

ट्रंप का यह हालिया ट्वीट वाणिज्य विभाग की रिपोर्ट के बाद आया है। इस रिपोर्ट में बताया गया कि अमेरिका का व्यापार घाटा मई में पिछले पांच महीने में सबसे ज्यादा बढ़ गया। ऐसा होने में थोड़ा-बहुत योगदान ऑटोमोबाइल के रिकॉर्ड आयात का भी है। ट्रंप ने पहले ऑटोमोबाइल पर अधिक शुल्क लगाने की चेतावनी दी थी।

वॉशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को चीन और यूरोप पर आरोप लगाया कि वह अमेरिका के ऊपर प्रतिस्पर्धात्मक फायदा हासिल करने के लिए अपनी मुद्राओं को जानबूझकर कमजोर कर रहे हैं ताकि अपनी अर्थव्यवस्था मजबूत कर सकें। 



ट्रंप का यह हालिया ट्वीट वाणिज्य विभाग की रिपोर्ट के बाद आया है। इस रिपोर्ट में बताया गया कि अमेरिका का व्यापार घाटा मई में पिछले पांच महीने में सबसे ज्यादा बढ़ गया। ऐसा होने में थोड़ा-बहुत योगदान ऑटोमोबाइल के रिकॉर्ड आयात का भी है। ट्रंप ने पहले ऑटोमोबाइल पर अधिक शुल्क लगाने की चेतावनी दी थी। 

इसे भी पढ़ें: चीन के सिचुआन प्रांत में 5.6 तीव्रता के भूकंप के झटके किए गए महसूस , 31 लोग घायल

अमेरिका वित्त विभाग ने हालांकि मई में कहा था कि चीन अपनी मुद्राओं के साथ छेड़छाड़ नहीं कर रहा है। वहीं पिछले महीने यूरोपीयन सेंट्रल बैंक के प्रमुख मारियो द्रागी ने भी ट्रंप के आरोप को खारिज कर दिया था। ट्रंप ने ट्वीट में कहा था कि चीन और यूरोप अपनी मुद्राओं के साथ बड़ी छेड़छाड़ कर रहे हैं और ज्यादा से ज्यादा धन अपनी तरफ ला रहे हैं ताकि वह अमेरिका के साथ प्रतिस्पर्धा कर सकें।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video