ब्रिटेन में भारी तेल संकट! पेट्रोल पंपों के बाहर लोगों की लंबी कतारें; सरकार ने उठाया बड़ा कदम

ब्रिटेन में भारी तेल संकट! पेट्रोल पंपों के बाहर लोगों की लंबी कतारें; सरकार ने उठाया बड़ा कदम

अधिकारियों के मुताबिक, इस कानून के सस्पेंड होने से कंपनियों के लिए सूचना जारी करना और शेयर करने में आसानी होगी। साथ ही देश के सबसे जरूरत वाले हिस्सों को प्राथमिकता देने में आसानी होगी।

ब्रिटेन में ईंधन संकट हर दिन बढ़ता जा रहा है जिसके कारण अब देश के कई पेट्रोल पंप तक खाली हो चुके है। इससे अब ब्रिटिश सरकार की मुसीबतें भी बढ़ती जा रही है। इस मुशिकल घड़ी से निकले के लिए अब ब्रिटिश सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। पेट्रोल स्टेशनों पर पेट्रोल की डिलीवरी कम की जाए इसकी मंजूरी के लिए सरकार ने प्रतिस्पर्धा कानून को सस्पेंड कर दिया है। अधिकारियों के मुताबिक, इस कानून के सस्पेंड होने से कंपनियों के लिए सूचना जारी करना और शेयर करने में आसानी होगी। साथ ही देश के सबसे जरूरत वाले हिस्सों को प्राथमिकता देने में आसानी होगी। 

पेट्रोल पंप पर लोगों की भीड़

ब्रिटेन में पेट्रोल की सप्लाई में कमी से लोगों में डर बैठ गया है जिसके बाद घबराकर भारी मात्रा में लोग पेट्रोल खरीद रहे है। बता दें कि देश के कई पेट्रोल पंप पर लोगों की लंबी कतारें लग रही है। हालात इतने खराब हो रहे है कि ब्रिटेन के  मंत्रियों ने पेट्रोल की डिलीवरी के लिए सेना की तैनाती करने पर विचार किया है। इसी बीच अब पेट्रोल रिटेलर्स एसोसिएशन ने चेतावनी देते हुए कहा कि, लगभग 5500 आउटलेट्स सदस्यों में से दो तिहाई सदस्यों के पास पेट्रोल खत्म ही हो गया है। बता दें कि जल्द ही बाकी आउटलेट्स के पेट्रोल पंप से भी जल्द ईंधन खत्म होने की आंशका है। 

ब्रिटेन में आखिर क्यों हो रही पेट्रोल की किल्लत

ब्रिटेन में कुल 8000 पेट्रोल स्टेशन है। ट्रक ड्राइवरों की कमी ही देश में पेट्रोल की किल्लत की बड़ी वजह है। देश में ट्रक ड्राइवर नहीं होने की वजह से सप्लाई चेन पर काफी बुरा असर पड़ा है। बता दें कि देश में फ्यूल स्टेशनों तक तेल नहीं पहुंच पा रहा है जिसके कारण फ्यूल स्टेशनों के बाहर लोगों की लंबी कतारें लगी हुई हैं। पेट्रोल के लिए लोगों के बीच लड़ाइयां भी हो रही है। सरकार ने इन सबके बीच सफाई देते हुए कहा है कि, देश में ट्रक ड्राइवर को जल्द ही अस्थाई वीजा जारी किया जाएगा। इससे ड्राइवरों की बढ़ोतरी होगी। ब्रिटेन की सरकार 5हजार विदेशी ट्रक ड्राइवरों को अस्थाई वीजा जारी करेगी। सरकार ने देश में आए पेट्रोल संकट को लेकर ब्रेक्जिट को जिम्मेदार ठहराया है।