ममता ने हिंसा, बलात्कार के मामलों को लेकर बंगाल पुलिस की खिंचाई की

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 28, 2022   08:06
ममता ने हिंसा, बलात्कार के मामलों को लेकर बंगाल पुलिस की खिंचाई की
ANI Twitter.

पिछले महीने तृणमूल कांग्रेस के एक स्थानीय नेता की हत्या के बाद बोगटुई गांव में नौ लोगों को जिंदा जला दिया गया था। इसी तरह, हंसखली में नाबालिग लड़की के साथ तृणमूल कांग्रेस के एक स्थानीय नेता के बेटे ने कथित तौर पर बलात्कार किया और बाद में उसकी मौत हो गई।

कोलकाता| पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को पुलिस बल को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि उनकी लापरवाही के कारण राज्य के विभिन्न स्थानों पर हिंसा और बलात्कार की घटनाएं हुई हैं, जिससे राज्य सरकार को नुकसान उठाना पड़ा।

ऐसी घटनाओं के चलते आलोचना का सामना कर रहीं बनर्जी ने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की खिंचाई की और कहा कि अधिकारियों के सूत्र उन्हें जानकारी प्रदान करने में विफल रहे, जिसके चलते बीरभूम जिले के बोगटुई और नदिया जिले के हंसखली में इस तरह की घटनाएं हुईं।

पिछले महीने तृणमूल कांग्रेस के एक स्थानीय नेता की हत्या के बाद बोगटुई गांव में नौ लोगों को जिंदा जला दिया गया था। इसी तरह, हंसखली में नाबालिग लड़की के साथ तृणमूल कांग्रेस के एक स्थानीय नेता के बेटे ने कथित तौर पर बलात्कार किया और बाद में उसकी मौत हो गई।

राज्य सचिवालय में प्रशासनिक समीक्षा बैठक के दौरान बनर्जी ने पुलिस अधिकारियों को जिले में पत्रकारों को अपने सूत्र के रूप में उपयोग करने के लिए कहा क्योंकि उनके पास बेहतर नेटवर्क और अच्छे संपर्क होते हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।